अधिक से अधिक पुरुषों को नसबंदी कराने के लिए करें प्रेरित: सीएस

0
  • पुरुष नसबंदी पखवाड़ा को सफल बनाने के लिए सिविल सर्जन की अध्यक्षता में हुई बैठक
  • पखवाड़ा को सफल बनाने के लिए कार्य योजना तैयार करने का निर्देश
  • जिले में 6 दिसंबर तक चलेगा पुरुष नसबंदी पखवाड़ा

गोपालगंज: जिले में जनसंख्या स्थिरीकरण को लेकर पुरुष नसबंदी पखवारा का शुभारंभ किया गया है। जिसके तहत आशा कार्यकर्ता व आंगनबाड़ी सेविका घर घर जाकर लोगों को परिवार नियोजन के फायदों के बारे में जानकारी दे रही है। पखवाड़ा को सफल बनाने के लिए सिविल सर्जन की अध्यक्षता में समाहरणालय सभा कक्ष में जिला स्तरीय कमेटी की बैठक आयोजित की गई । बैठक में सिविल सर्जन डॉ त्रिभुवन नारायण सिंह ने कहा कि अधिक से अधिक लोगों को नसबंदी के बारे में जागरूक किया जाए तथा पखवारा के दौरान निर्धारित नसबंदी के लक्ष्य को हर हाल में पूरा करना है। इसके लिए लोगों को मोबिलाइज करने की जरूरत है। ताकि अधिक से अधिक लोग आगे आये और नसबंदी करा सके। उन्होंने पदाधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि परफॉर्मेंस में सुधार की आवश्यकता है। निर्धारित लक्ष्य को अनुरूप कार्य योजना तैयार कर काम करने की जरूरत है। ताकि शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल किया जा सके। जिले में पुरुष नसबंदी पखवाड़ा का शुभारंभ किया गया है। दो चरणों मे पखवाड़ा का आयोजन होगा। 23 से 29 नवंबर तक प्रथम चरण तथा 30 से 6 दिसंबर तक द्वितीय चरण चलेगा। बैठक में केयर इंडिया के परिवार नियोजन समन्वयक अमित कुमार के द्वारा पीपीटी के माध्यम से प्लानिंग व लक्ष्य पर चर्चा की गई। बैठक में सिविल सर्जन डॉ टीएन सिंह, एसीएमओ डॉ एके चौधरी, डीपीएम धीरज कुमार, आईसीडीएस के डीपीओ शम्स जावेद अंसारी, केयर इंडिया के डीटीओ अमरेंद्र तिवारी, जिला स्वास्थ समिति के डीसीएम तथा सभी प्रखंडों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, स्वास्थ्य प्रबंधक, सीडीपीओ शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

purus nasbandi

गर्भनिरोधक के वितरण पर विशेष जोर

सिविल सर्जन ने निर्देश दिया कि सभी सर्विस डिलेवरी प्वाइंटस पर डिस्प्ले ट्रे, कंडोम बॉक्स स्थापित करते हुए गर्भनिरोधक का वितरण किया जाए। पखवाड़े के दौरान आशा द्वारा कंडोम एवं गर्भनिरोधक गोलियों के वितरण पर विशेष जोर दिया जाए। लाभार्थी को बार-बार केंद्रों पर आने एवं बार-बार संपर्क से बचन के लिए कंडोम और गर्भनिरोधक गोली- माला-एन, छाया के अतिरिक्त पैकेट का वितरण करें। पखवाड़े के दौरान परिवार नियोजन के सवाएं के साथ पुरूष नसबंदी पर विशेष बल दिया दें।

योग्य दंपतियों की होगी काउंसलिंग

स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा स्वास्थ्य केंद्रों पर आने वाले योग्य दंपति को गर्भनिरोधक के संबंध में परामर्श देते हुए इच्छित गर्भनिरोधक साधन अथवा सेवा इच्छानुसार उपलब्ध कराया जायेगा। प्रमुख स्थलों पर बैनर और पोर्स्टस को पुरूष नसबंदी पखवाड़े के उत्सव को प्रदर्शित किया जाये।

एक शल्य कक्ष क्रियाशील रहेगा

जिला स्वास्थ समिति के डीपीएम धीरज कुमार ने कहा कि पुरूष नसबंदी पखवाड़ा के सफल संचालन के उद्देश्य से पखवाड़ा के दौरान पुरूष नसबंदी सेवाएं के लिए जिला अस्पताल एवं अनुमंडलीय अस्पताल, रेफरल अस्पताल, सीएचसी, पीएचसी में एक शल्य कक्ष क्रियाशील रहेगा। पुरूष नसबंदी के दौरान एफडीएस कैंप योजना के अनुसार संबंधित स्वास्थ्य संस्थान के ओटी में सभी आवश्यक उपकरणों, उपस्करों, सर्जिकल सामग्री, दवा आदि की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी।