मुखबिरी करने पर नक्सलियों ने दी खौफनाक सजा, दो भाईयों और उनकी पत्नी को फांसी पर लटकाया, डायनामाइट से उड़ाया घर, पर्चा भी लगाया

0

पटना: गया के अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र डुमरिया प्रखण्ड के छकरबन्धा थाना क्षेत्र के मनुवार गॉव में शनिवार की देर रात प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादियों ने 2 घरो को डायनामाइट लगाकर उड़ा दिया है। वही एक ही परिवार के 4 सदस्यों को घर के बाहर फांसी से लटकाकर मौत के घाट उतार दिया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

बताया जा रहा है की पिछले 16 मार्च 2021 को पुलिस और नक्सलियों के मुठभेड़ में पुलिस ने नक्सलियों के 4 सदस्य को मार गिराया था। सीआरपीएफ और कोबरा बटालियन ने चार लक्सली जिसमे अमरेश कुमार, सीता कुमार, शिवपूजन कुमार और उदय कुमार को मार गिराया था। इस घटना को नक्सलियों ने षड्यंत्र बताते हुए अपने साथियों के हत्या के प्रतिशोध में इस घटना को अंजाम दिया है। नक्सली ने जो पर्चा चिपकाया है उसमें लिखा है की जहर देकर 4 नक्सलियों की हत्या कर इन सबने विश्वासघात किया था जिसे पुलिस ने मुठभेड़ बताया था।

उसी घटना के प्रतिशोध में बीती देर रात सरजू सिंह भोक्ता के घर को डायनामाइट लगाकर उड़ा दिया वही सरजू सिंह भोक्ता के दोनों बेटों सतेंद्र सिंह भोक्ता और महेंद्र सिंह भोक्ता सहित पत्नी और 1 अन्य महिला समेत 4 लोगो को फाँसी लगाकर मौत के घाट उतार दिया है। जानकारी यह भी हो कि अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र डुमरिया और इमामगंज प्रखंड में 24 नवंबर को पंचायत चुनाव के मतदान होना है। इस कारण नक्सलियों ने पहले ही चुनाव बहिष्कार करने की घोषणा कर रखा है। इस तरह की कार्रवाई से आम लोगों में दहशत देखा जा रहा है।

घटना के बाद सीआरपीएफ, कोबरा, गया एसएसपी आदित्य कुमार,सिटी एसपी राकेश कुमार घटनास्थल पर पहुंचे है। पूरे इलाके को सील कर सर्च ऑपेरशन चलाया जा रहा है। एसएसपी ने बताया कि नक्सलियों द्वारा पूर्व में डायनामाइट लगाकर डुमरिया में सरजू सिंह भाक्ता के मकान को उड़ाया गया है। सरयू सिंह भोक्ता के पुत्र सतेंद्र सिंह भोक्ता एवं महेंद्र सिंह भोक्ता तथा दोनों की पत्नी की हत्या घर के दरवाजा पर टांग दिया गया है। चारों शव को बरामद कर पोस्टमार्टम कराने के लिए गया स्थित अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज लाया जा रहा है। एसएसपी ने बताया कि घटनास्थल की घेराबंदी कर विशेष सुरक्षा बलों के द्वारा सर्च अभियान चलाया जा रहा है।