पचरुखी: घर से बुलाकर अपहरण के बाद गला रेत युवक की हत्या

0
  • 21 जनवरी को भी एक युवक का अपहरण कर लिया गया और 24 जनवरी को उसका शव पिपरा गांव के चंवर से बरामद किया था
  • शुक्रवार को कल्याणपुर बागीचे से बरामद हुआ शव
  • युवकों का अपहरण कर हत्या का सिलसिला जारी
  • 24 जनवरी को घर से बुलाकर दिया घटना को अंजाम

परवेज अख्तर/सिवान: शहर के सहायक सराय थाना क्षेत्र के कल्याणपुर गांव के समीप एक बागीचा से पुलिस ने शुक्रवार की दोपहर एक युवक का शव बरामद किया है। मृतक इसी थाना के बैशाखी गांव निवासी राहुल कुमार ठाकुर था। जिसकी हत्या अपराधियों ने गला रेतकर की है। वहीं हत्या के बाद साक्ष्य मिटाने के लिए अपराधियों ने युवक का शव बागीचे में मिट्टी खोदकर ढंक दिया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार राहुल का अपहरण घर से बुलाकर 24 जनवरी की देर शाम जीबीनगर थाना के शम्भोपुर बाजार से हुआ था। वहीं देर रात तक राहुल के वापस नहीं लौटने पर परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की थी। लेकिन, कहीं कुछ पता नहीं चल सका था। फलस्वरूप परिजनों ने शम्भोपुर गांव के करीब आधा दर्जन युवकों पर राहुल के अपहरण का आरोप लगा सराय पुलिस से शिकायत की थी। वहीं पुलिस राहुल के अपहरण की एफआईआर दर्ज कर उसकी बरामदगी व आरोपितों की धरपकड़ के लिए सभी संभावित ठिकानों पर छापेमारी में जुटी ही थी कि इसी बीच शुक्रवार की दोपहर कल्याणपुर गांव के समीप एक बागीचे से शव की बदबू आने की सूचना पुलिस को मिली। इधर बागीचे में शव होने की सूचना पर एक तरफ जहां सराय पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई। वहीं दूसरी तरफ शव की पहचान के लिए घटनास्थल पर राहुल के परिजनों के अलावा ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गयी। इसी बीच पुलिस ने बागीचे में मिट्टी से ढंके शव को बाहर निकाला। जिसके बाद परिजनों ने शव की पहचान की।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

हत्या के कारणों को लेकर कई तरह की चर्चाएं

कल्याणपुर से राहुल का शव बरामद होने के बाद लोगों में कई तरह की चर्चाएं जारी हैं। एक तरफ जहां लोगों में इस बात की चर्चा है कि राहुल की हत्या किसी आपसी रंजिश के कारण उसके दोस्तों ने की है। वहीं दूसरी तरफ राहुल की हत्या की वजह प्रेम प्रसंग भी होने की लोगों में दबी जुबान चर्चा है। बहरहाल मामला जो भी हो लेकिन, जिस तरह आए दिन युवकों का अपहरण कर हत्या का सिलसिला जारी है और पुलिस इसे रोक पाने में असफल है। यह लोगों के लिए भय का कारण बना है। दरअसल 21 जनवरी को भी सहायक सराय थाने के उखई गांव से शादी समारोह में शरीक होने गये एक युवक का अपहरण कर लिया गया और 24 जनवरी को पुलिस ने उसका शव पिपरा गांव के चंवर से बरामद किया था। ठीक उसी दिन राहुल को घर से बुलाकर अपहरण करना अपराधियों द्वारा पुलिस को चुनौती देने से कम नहीं है। हालांकि पुलिस दोनों घटनाओं के आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी में जुटी है।