बिहार में 15 मई तक नहीं बनेगा पासपोर्ट, विदेश मंत्रालय के जारी की अधिसूचना, जानिए…..

0

पटना: कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए शुक्रवार से भागलपुर सहित बिहार के किसी भी डाकघर स्थित पासपोर्ट केंद्र से पासपोर्ट बनाने का काम नहीं होगा। विदेश मंत्रालय द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार पासपोर्ट केंद्र आगामी 15 मई तक बंद रहेगा। ऐसे में जरूरतमंदों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। डाक विभाग के अधिकारियों ने बताया कि विदेश मंत्रालय के जारी अधिसूचना के मुताबिक बिहार के अलावा यह निर्देश उन प्रदेशों के लिए भी लागू हो सकता है जिन प्रदेशों में कोरोना के खतरे बढ़ रहे हैं। कोरोना महामारी की यही स्थिति बनी रही तो पासपोर्ट केंद्र के बंद होने की तिथि आगे भी बढ़ सकती है। पिछली बार कोरोना के कारण आठ माह तक बंद रहा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

प्रधान डाकघर के डाकपाल चंद्रशेखर मंडल ने कहा कि जिन लोगों ने आवेदन किया है, उन्हें फ‍िर से आवेदन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उसी आवेदन के आधार पर उनलोगों का पासपोर्ट बनेगा। विदेश मंत्रालय के द्वारा जारी अधिसूचना के आधार पर मुख्य पोस्ट मास्टर जनरल के निर्देशानुसार 15 मई तक पासपोर्ट सेवा केंद्र बंद रहेगा। इस बीच कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए डाकघर में कई निर्णय लिए हैं। डाकघर में कोरोना गाइड लाइन का पालन किया जा रहा है। कई सेवाओं को रोक दी गई है। इससे लोगों को काफी परेशानी हो रही है। कोरोना काल में बैंकिंग सेवा पर भी प्रभाव पड़ा है।

एक मई से सात दिनों के लिए बंद रहेंगे तीन उपडाकघर

आगामी एक मई से शहरी क्षेत्र के तीन उपडाकघर एक सप्ताह के लिए बंद रहेगा। डाक अधीक्षक आरपी प्रसाद ने कहा कि कोरोना के बढ़ते खतरे को ध्यान में रखकर सेंट्रल जेल, साहिबगंज व अलीगंज डाकघर को एक मई से एक सप्ताह के लिए बंद करने का निर्णय लिया गया है। इन उप डाकघरो के डकपाल अपना योगदान प्रधान डाकघर में करेंगे। इसकी सूचना जारी कर दी गई है।