लूट कांड में हाथ मारती रही पुलिस, नहीं मिला किसी का सुराग

0
police

अज्ञात टेंपो चालक पर भी मामला दर्ज

परवेज अख़्तर/सिवान : शहर के स्टेशन रोड पर गुरुवार को सीएमएस कर्मी से लूट के मामले में पुलिस ने घायल के बयान पर अज्ञात टेंपो चालक सहित दो बाइक सवार अपराधियों पर लूट की प्राथमिकी दर्ज की है। हालांकि अज्ञात टेंपो चालक पर मामला दर्ज होने के कारण पुलिस की मुश्किलें और बढ़ गई हैं।
वहीं 24 घंटे के बाद भी इस मामले में पुलिस के हाथ खाली थे। पुलिस कुछ भी बताने से इन्कार करती रही। ऐसे में सबसे बढ़ा प्रश्न यह उठता है कि जिस टेंपो में घायल मुकेश सिंह सवार थे उसमें चार की संख्या में और यात्री भी बैठे थे। घटना के बाद चालक सहित सभी यात्री फरार हैं। पुलिस के पास कोई ठोस सुराग नहीं है जिसके बिना पर वह टेंपो चालक सहित अन्य यात्रियों से अपराधियों की पहचान के लिए स्कैच जारी करवाए या उनकी धरपकड़ के लिए कुछ सुराग इकट्ठा कर पाए। वहीं जानकारी के अनुसार जब मुकेश रुपये लेकर निकले तो उन्होंने एक टेंपो वाले को हाथ देकर रोका उस टेंपो की पिछली सीट पर तीन यात्री बैठे और आगे एक यात्री बैठा था। इस कारण मुकेश आगे की सीट पर बैठ गए। इधर घात लगाए अपराधियों ने पहले मुकेश के गले के सामने हथियार सटा कर बैग की मांग की जब मुकेश ने बैग नहीं दिए तो अपराधियों ने उन्हें जान मारने की नीयत से उनके गले में गोली मार दी और रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए।

कहां गया टेंपो चालक, आसमान खा गई या जमीन निगल गई!

घटना के बाद से टेंपो चालक फरार है और उसकी कोई भी पहचान पुलिस के पास नहीं है। टेंपो चालक के भूमिगत होने के पीछे पहले ही एसपी नवीन चंद्र झा डर का कारण बता रहे हैं, लेकिन अगर टेंपो चालक निर्दोष है तो फिर वह पुलिस के सामने क्यों नहीं आ रहा है? क्या टेंपो चालक को आसमान खा गई या जमीन निगल गई? बहरहाल पुलिस के लिए यह घटना एक चुनौती के रूप में है और पुलिस भी इस घटना के उद्भेदन में लगी है।