स्क्रारपियो चोरी कांड: भाजपा सांसद का पुतला दहन कर जदयू कार्यकर्ताओं ने जताया विरोध

0

भाजपा सांसद और उनके पुत्र को जेल भेजने की मांग

छपरा: मशरक के महावीर चौक पर शनिवार को जदयू के वरिष्ठ नेता कामेश्वर सिंह ने स्क्रारपियो चोरी कांड में लिप्त भाजपा सांसद और उनके पुत्र पर कानूनी कार्रवाई नहीं करने पर विरोध दर्ज करतें हुए महाराजगंज भाजपा सांसद का पुतला दहन किया। पुतला दहन कार्यक्रम के लिएं जदयू कार्यकर्ताओं की भीड़ तरैया मोड़ पर जदयू नेता कामेश्वर सिंह के कार्यालय पर इकट्ठा हुई और वहां से जूलूस के शक्ल में महाराजगंज भाजपा सांसद के विरोध में नारे लगाते हुए महावीर चौक पर पहुंच पुतला दहन किया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ad-mukhiya

मौके पर भाजपा सांसद मुर्दाबाद,स्क्रारपियो चोर को जेल भेजो के नारे लगाते हुए थें।पुतला दहन कार्यक्रम में महेश्वर सिंह, पूर्व प्रधानाचार्य सुरेन्द्र नाथ सिंह, चन्द्रकेतु सिंह,गौतम सिंह,शुभनारायण सिंह समेत दर्जनों जदयू कार्यकर्ता मौजूद रहे। मौके पर जदयू के वरिष्ठ नेता कामेश्वर सिंह ने सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा सांसद का पुत्र तो जेल जाएगा ही साथ ही चोर सांसद को भी जेल जाना होगा। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन भाजपा सांसद के दबाव में उनका पेट्रोल पंप जांच पड़ताल किया जा रहा है।

उन्होंने जल्द से जल्द प्रशासन से इस पर कारवाई करने की मांग किया अन्यथा जल्द ही जिला में वरीय अधिकारियों के सामने पुतला दहन कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। मामला है कि जदयू के वरिष्ठ नेता कामेश्वर सिंह ने महाराजगंज भाजपा सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल को चुनाव के समय एक स्क्रारपियो खरीद चुनाव प्रचार के लिए दिए थें और चुनाव के बाद स्क्रारपियो वापस करने में भाजपा सांसद की आनाकानी पर जदयू नेता ने मशरक थाना में स्क्रारपियो चोरी का मामला दर्ज कराया उसी दौरान स्क्रारपियो सर्विस के लिए बेंगलूर के मेसर्स सिरसा ऑटो मोबाईल राजीवनगर यशवंतपुर में लाई गई उसकी सर्विस की मैसेज रजिस्टर्ड मोबाईल नम्बर जदयू नेता के बेटे पर आयी जिस पर पुलिस ने कारवाई करते हुए स्क्रारपियो को जप्त कर थाना लायी वही जांच के दौरान पता चला कि डॉ सचिन कुंद्रा के द्वारा सर्विस के लिए दी गई है जो महाराजगंज भाजपा सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल के चिकित्सक पुत्र राज सिग्रीवाल का पुत्र है। जिसमें जदयू नेता ने भाजपा सांसद और उनके पुत्र पर कारवाई की मांग किया। मामले में जांच-पड़ताल शुरू कर दी।