पुर्व सांसद शहाबुद्दीन ईमानदारी के वजह से जेल में है बंद: पप्पू यादव

2

20 साल तक भाजपा की मलाई खाकर अब शरद कह रहे कि दही खट्टे है

नीतीश कुमार की जमकर तारीफ की, दिए नए राजनीतिक समीकरण के संकेत

परवेज़ अख्तर(पत्रकार) सिवान की विशेष रिपोर्ट:- जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव रविवार को विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होने सिवान पहुँचे। कार्यक्रम के दौरान पप्पू यादव सबसे पहले राजद पुर्व सांसद डॉक्टर मो. शहाबुद्दीन के ससुर सह राजद के पूर्व लोकसभा प्रत्याशी हिना शहाब के पिता स्व. कमरुद्दीन सेठ के निधन पर शोक सम्पत परिवार से मिलकर सांत्वना देने जिला मुख्यालय के पुरानी किला स्थित हिना शहाब के मायके पहुंचे। पीड़ित परिवार को सांत्वना देने के बाद श्री यादव ने पत्रकारों से बात की तथा इस दौरान बिहार में नए राजनीतिक समीकरण के स्पष्ट संकेत दिए। प्रेस वार्ता के दौरान सांसद श्री यादव ने लालू प्रसाद यादव पर बेहद गंभीर आरोप लगाए।

उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि एक मुस्लिम नेता 15- 16 सालों से लगातार जेल में है क्योंकि उसने ईमानदारी से पार्टी की सेवा की वहीं दूसरी ओर पार्टी चलाने वाले लोग परिवार को सेटल करने में लगे हैं। राजनीतिज्ञ दलितों और मुसलमानों को डरा धमका कर उनका वोट लेती है लेकिन विकास के नाम पर पिछले 70 वर्षों में आज भी दलित और मुसलमान की स्थिति बेहद निराशाजनक है। दुर्भाग्य है कि सभी पार्टियां मुसलमानों और दलितों के नाम पर एक दूसरे को डरा धमका कर सत्ता में बनी हुई है लेकिन यह सत्ता मुसलमान या दलित के हाथों में नहीं जा पा रही है। आरक्षण के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि यादव का बेटा ही मुख्यमंत्री क्यों बने । एक दलित या मुसलमान के बेटा क्यों नहीं बन सकता? आरक्षण को संपन्न लोगों से वापस लेनी चाहिए और पप्पू अंसारी ,पप्पू मांझी, पप्पू राम और पप्पू चौहान को आरक्षण का लाभ दिया जाना चाहिए। पूरे बातचीत के दौरान पप्पू यादव ने लालू यादव एवं उनके परिवार पर मुस्लिम और दलितों के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया। वहीं दूसरी ओर सांसद पप्पू यादव ने शरद यादव पर भी गंभीर कटाक्ष किए। उन्होंने कहा कि शरद यादव को घर में जगह नहीं मिली तो किराए का मकान खोजते चल रहे हैं। 20-25 साल तक भारतीय जनता पार्टी के साथ रहकर मलाई खाए और उन्हें ही कोस रहे है।

 

उन्होंने बेहद गंभीर शब्दों में कहा कि 70 साल के बूढ़े ऐसे ही राजनीतिज्ञ देश को गुमराह और बर्बाद करने में लगे हैं। बूढ़े और बिना अच्छी सोच वाले राजनीतिज्ञों को राजनीतिक मौत दिए जाने की जरूरत है। वहीं दूसरी ओर सांप्रदायिक मुद्दे पर नीतीश कुमार द्वारा उठाए गए कदमों की खुलकर तारीफ की और कहा कि मेरे बात का भले कोई मायने आप लगा लें लेकिन सच तो यही है कि नीतीश कुमार ने बिना चेहरा देखे ऐसे मामलों में कार्रवाई की है। देशभर में हुए दलित आंदोलन का समर्थन करते हुए उन्होंने कहा कि जब एक पद्मावत फिल्म पर अपने अधिकार के लिए लोग इतनी बड़ी संख्या में सड़क पर उतर पड़े थे तो अपने अधिकारों के लिए अगर दलित सड़क पर उतरे तो उन्होंने कौन सा पाप किया। देशभर में माहौल को खराब कर दलित मुसलमान को सामाजिक रूप से नुकसान पहुंचाया जा रहा है। सांसद श्री यादव ने कहा कि उनकी पार्टी युवाओं के हर मुद्दे को सड़क से सदन तक ले जाने का कार्य कर रही है और इसमें कामयाबी जरूर मिलेगी। प्रेस वार्ता के बाद सांसद पप्पू यादव हिना साहब से मुलाकात करने प्रतापपुर पहुंचे तथा वहां से इराक में मारे गए सिवान के 5 युवकों के परिजनों से मुलाकात कर उनके आंसू पोछे।

2 COMMENTS

Comments are closed.