सिवान: पाकिस्तान में विसेन नामक व्यक्ति को भेजे जाते थे रुपए

0
  • चंद दिनों में अकूत संपत्ति बना ली थी राजकुमार ने, एक दोस्त को फार्चूनर गिफ्ट की चर्चा
  • हवाला गिरोह के सात सदस्य और दो से तीन अज्ञात पर पुलिस ने दर्ज की प्राथमिकी
  • हवाला गिरोह के द्वारा जप्त मोबाइल के अनुसार अब तक 26 करोड़ रुपए का हुआ है लेन-देन
  • भगवानपुर हाट थानाध्यक्ष संजीव कुमार के बयान पर साइबर थाने में दर्ज की गई है प्राथमिकी

✍️परवेज़ अख्तर/एडिटर इन चीफ:
अंतर्राष्ट्रीय हवाला गिरोह का जिले के भगवानपुर हाट के ब्रह्मस्थान में भंडफोड़ होने के बाद व तीन सदस्यों की गिरफ्तारी होने के बाद जिले में हड़कंप मच गया था.पुलिस इस गिरोह के फरार सदस्यों के नाम की जानकारी लेकर प्राथिमकी दर्ज करवाने के बाद गिरफ्तारी की प्रक्रिया में जुट गयी.भगवानपुर हाट थानाध्यक्ष संजीव कुमार ने साइबर थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाते हुये सात को नामजद किया है. वहीं दो से तीन अज्ञात पर भी प्राथमिकी दर्ज करायी है. पुलिस नामजद व अज्ञात गिरोह के सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही है.मालूम हो कि सीवान एसपी श्री शैलेश कुमार सिन्हा को गुप्त सूचना मिली कि भगवानपुर के ब्रह्मस्थान गांव निवासी हरेंद्र सिंह के घर पर कुछ लोग एकत्रित है जो हवाला कारोबार से जुड़े है.साथ ही हवाला के पैसे को खपाने की फिराक में है.इस सूचना के बाद एसपी श्री सिन्हा के आदेश पर एसडीपीओ पोलस्त कुमार,थानाध्यक्ष संजीव कुमार, पुअनि रवि कुमार,चांदनी कुमारी,पुसअनि शैलेश कुमार सिंह,सिपाही संजय ठाकुर,प्रवीण कुमार, अजय कुमार के साथ मिलकर थाना क्षेत्र के ब्रह्मस्थान गांव निवासी हरेंद्र सिंह के घर छापेमारी की. छापेमारी में हवाला गिरोह के तीन सदस्य को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जिसमें थावे के मीरअलीपुर निवासी शेख कलीम अहमद, गोपालगंज नगर थाने के साधु चौक वार्ड नंबर तीन निवासी राजेश कुमार व ब्रह्मस्थान निवासी मनु कुमार सिंह शामिल थे.मौके से मास्टमाइंड राजकुमार शर्मा, विश्वजीत कुमार व हरेंद्र, आफताब फरार मिले. इसके बाद पुलिस टीम ने तीनों से पूछताछ के बाद सघन जांच की.पुलिसिया जांच में यह बात सामने आयी है कि जितने मोबाइल जप्त हुये से उससे करीब 26 करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ है. इसमें से पैसा पाकिस्तान, इजराइल, बांग्लादेश, सउदी अरब व अन्य देश भेजा गया है और मंगाया है. पाकिस्तान में यह पैसा विशेन नामक युवक के पास जाता है. हवाला कारोबार का पूरा खेल 6 प्रतिशत राशि के लिए हो रहा था.जिले में पहली बार साइबर क्राइम से जुड़ा पहला मामला दर्ज हुआ है. केश के आइओ उमेश कुमार ने बताया कि कांड दर्ज होने के बाद साइबर टीम अनुसंधान प्रारंभ कर दी है. जल्द ही पूरे गिरोह के सदस्यों को गिरफ्तार भी कर लिया जायेगा.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

चंद दिनों में अकूत संपत्ति बना ली थी राजकुमार ने, एक दोस्त को फार्चूनर गिफ्ट की चर्चा

अंतर्राष्ट्रीय हवाला गिरोह का फर्दाफाश होने के बाद इसमें शामिल सातों सदस्यों का नाम सामने आ गया. गिरोह का मास्टर माइंड ब्रह्मस्थान निवासी राजकुमार शर्मा है.इस धंधे से जुड़े होने से पहले राजकुमार के परिवार की स्थिति उतनी ठीक नहीं थी. इस धंधे से जुड़ने के बाद राजकुमार शर्मा की माली स्थिति ठीक होती चली गयी.वाहन खरीदारी के साथ बैंकों में भी अच्छी खासी रकम एकत्रित कर लिया.चर्चा है कि हाल के दिनों में उसने एक साथी को फार्चूनर गिफ्ट किया है.