सिवान: रईस खान ने कहा है कि सीवान छोड़ने की धमकी देने वाले चाहते हैं कि मैं इस्लाम छोड़ दूं

0
  • रईस ने कहा मैं बेवकूफ नहीं कि किसी को फंसाउंगा
  • लाइव आकर, रईस खां ने कही अपनी बात

परवेज अख्तर/सिवान: अपने उपर कातिलाना हमले की निंदा करते हुए रईस खान ने कहा है कि मैं बेवकूफ नहीं हूं कि किसी को फंसाउंगा. कहा कि राजनीति करने का सबको अधिकार है. दिवंगत पूर्व सांसद डॉ.मो.शहाबुद्दीन पर आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व के विधानसभा चुनाव के दौरान मेरे पिता का अपहरण उन्होंने हीं करवाया था और उन्ही के इशारे पर मेरे पिता को पांच गोली मारी गयी थी,शुक्र था की वह बच गए. अब मेरे ऊपर कातिलाना हमला किया गया है. पुलिसियां जांच में सब साफ हो जायेगा. बताते चलें कि इसी मामले में रईस खान ने राजद के पूर्व दिवंगत सांसद डॉ.मो. शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब सहित आठ लोगों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी है.जहां उनका परिवार न्याया नहीं मिलने पर सीवान छोड़ने की बात कहा है.मामले में गुरूवार को प्रेसवार्ता के दौरान उनकी पत्नी हेना शहाब ने कहा था कि मुझे न्याय नहीं मिलेगा तो मेरा परिवार सीवान छोड़ देगा. इस पर प्रतिक्रिया देते हुए रईस खान ने कहा है कि सीवान छोड़ने की धमकी देने वाले चाहते हैं कि मैं इस्लाम छोड़ दूं. पूछा कि क्या सीवान में किसी दूसरे मुसलमान को राजनीति करने का हक नहीं है. रईस ने कहा कि अगली चुनाव में पूरी मजबूती के साथ दावेदारी पेश करुंगा. कहा कि मेरी हत्या की प्लानिंग कुछ दिनों से की जा रही थी. परंतु मेरे उपर मेरे समर्थको व जनता-जर्नादन का आर्शीवाद है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.16.03 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.24.37 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.13.39 PM
WhatsApp Image 2022-08-14 at 9.18.57 PM

नामजद आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए रात भर चली छापेमारी

रईस खान के काफिले पर हुए हमले के मामले में गठित विशेष टीम व एसआईटी ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. हालांकि पुलिस कामयाबी के संबंध में कुछ भी बताने से इंकार कर रही है.बताते चले कि सोमवार की रात्रि तकरीबन 11:30 बजे एमएलसी का चुनाव खत्म होने के बाद रईस खान के अपने घर सिसवन ग्यासपुर लौटते वक्त अपराधियों ने हुसैनगंज थाना क्षेत्र के महुअल गांव के समीप गोलीबारी की थी.जिसमें रईस खान तो बच गए, परंतु दो अन्य समर्थक सहित छह लोग घायल हो गए थे. जबकि एक अन्य की मौत हो गई थी.