दृढ़ इच्छाशक्ति से करें चुनौतियों का सामना

0
sankalp

परवेज अख्तर/सिवान : जन शिक्षा निदेशालय बिहार सरकार यूनिसेफ और दीपायतन के सौजन्य से प्राथमिक शिक्षक शिक्षा महाविद्यालय मैरवा में शिक्षा सेवकों को चार दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण दिया गया। मंगलवार को दो बैच का प्रशिक्षण समाप्त हुआ। इस प्रशिक्षण में रघुनाथपुर, मैरवा, बसंतपुर,लकड़ी नबीगंज, दरौली और गुठनी प्रखंड के शिक्षा सेवक शामिल हुए। प्रशिक्षक पटना के सुरेंद्र कुमार, भोजपुर की कंचन कुमारी और विनोद कुमार, जहानाबाद की ज्योति मणि ने प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षण के कौशल से रूबरू कराते हुए उनके कर्तव्य और दायित्व का पाठ पढ़ाया। प्रशिक्षण समाप्ति समारोह में संबोधित करते हुए प्रशिक्षकों ने कहा कि स्कूल से छिजीत बच्चों को स्कूल पहुंचाने का प्रयास हर हाल में सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को साक्षरता केंद्र पर लाने उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाने एवं अंधविश्वास तथा सामाजिक कुरीतियों के उन्मूलन में शिक्षा सेवकों की भूमिका काफी महत्वपूर्ण है। यह चुनौती भरा है। इस चुनौती का सामना करने के लिए इन्हें दृढ़ इच्छाशक्ति एवं सेवा भाव से काम करना होगा। त्रिलोकी नाथ चतुर्वेदी ने शिक्षा के वर्तमान परिदृश्य में शिक्षकों की भूमिका पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर पीटीइसी के बृजेश कुमार, प्रह्लाद कुमार, प्रभाकर कुमार, उपेंद्र बैठा, जरीना खातून, फातमा राबिया, दिलीप कुमार, विश्व मोहन सिंह, मनोज कुमार, वीरेंद्र कुमार, नीतू कुमारी, माया सिन्हा, सुनीता कुमारी समेत कई ने संबोधित किया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal