सुशासन सरकार में पदाधिकारी बेलगाम, श्री दुबे

0

परवेज़ अख्तर, बड़हरिया (एसएनबी )- बड़हरिया प्रखंड बीडीओ राजीव कुमार सिन्हा और प्रखंड प्रमुख सुबुकतारा ख़ातून के बीच सोमवार को प्रखंड कार्यालय परिसर में हुए खूनी हिंसक झड़प इतिहास के पन्नो में दर्ज हुआ काला दिवस तथा इस तरह के घटनाएं से सर्मसार हुआ लोकतंत्र। जिस घटना को लेकर प्रदेश कांग्रेस समिति के कार्यरत सदस्य श्री शिवधारी दुबे ने प्रखंड कांग्रेस कार्यलय स्वयं पहुच कर और लोगो से सम्बंध स्थापित कर विवाद का पता लगाया। इस अवसर पर श्री दुबे ने बताया कि सुशासन के सरकार अपने विकास के काम में विफल है विकास के काम को ही लेकर प्रखंड प्रमुख और बीडीओ में मारपीट हुई अगर विकास की गाड़ी तेजी से दौड़ती तो सायद ऐसी नौबत नही आती। सुशासन की सरकार में पदाधिकारी और उसके नेता बेलगाम हो गए है। इस मामले का मुख्य कारण वर्चस्व और लूट की बाजार के कारण है एक तरफ सरकार के पदाधिकारी तो दूसरे तरफ पार्टी के नेता इस तरह के विवाद से साफ जाहिर हो रहा है कि सुशासन की सरकार बिल्कुल विफल है वही श्री दुबे ने कहा कि विकास और काफी दिनों से चल रहा अनबन और प्रमुख के द्वरा दिए गए मामले की जनकारी को अगर जिला स्तर के अधिकारी इसमे करवाई किये रहते तो इस तरह का मामला देखने को नही मिलता। इससे साबित हो रहा है कि सरकार विकास के काम मे बिल्कुल विफल है। इस तरह के विवाद से बड़हरिया के काला दिवस के रूप में इतिहास में लिखा जाएगा। इस अवसर पर कांग्रेस के शिक्षक प्रकोष्ट के जिला अध्यक्ष प्रो मो तारिक शुजा कांग्रेस के प्रदेश प्रतिनिधि शमीम अहमद खान कांग्रेस नेता एसएम फजले हक, डॉ रोहित कुमार, कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष बच्चा सिंह जय राम पर्वत जगरनाथ सिंह सैयद आज़ाद अहमद, मो सोहैल लड्डन मिया, प्रो नरेंद्र गिरी सहित तमाम कांग्रेस के कार्यकर्ता उपस्थित थे।