ब्‍वायफ्रेंड की बर्थडे पार्टी में जाकर बुरी फंसी पटना की युवती, पांच घंटे बाद होटल से निकली तो यह था हाल

0

पटना: बर्थडे के नाम पर होटल में प्रेमिका को बुलाकर दुष्‍कर्म करने और फिर शादी से इनकार करने का मामला पटना में सामने आया है। घटना राजधानी के रामकृष्‍ण नगर थाना क्षेत्र की है। इस बाबत प्रेमिका ने प्राथमिकी दर्ज कराई। पुलिस ने त्‍वरित कार्रवाई करते हुए आरोपित राहुल कुमार को गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया। आरोपित की गिरफ्तारी के बाद थाने में काफी ड्रामा भी हुआ। लड़की कहने लगी कि राहुल शादी के लिए तैयार हो गया है, उसे छोड़ दीजिए। लेकिन पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी। युवक को जेल भेजकर ही दम लिया। बताया जाता है कि युवक-युवती दोनों का घर आसपास ही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

11 सितंबर को बाइपास के होटल में किया दुष्‍कर्म

थानाध्यक्ष रामकृष्ण नगर जहांगीर आलम खान के अनुसार युवती ने दर्ज प्राथमिकी में बताया है कि राहुल कुमार से उसका प्रेम संबंध था। वह अक्‍सर उसे शादी का झांसा देता था। इसी दौरान बीते 11 सितंबर को उसने बताया कि उसका आज बर्थडे है। इसके बाद उसने उसे बाइपास इलाके के एक होटल में बुलाया। वह उसकी बातों पर भरोसा कर चली गई। लेकिन वहां पहुंची तो होटल के कमरे में राहुल अकेले था। उसने जबरन उसे पांच घंटे तक वहां रोके रखा। इस दौरान दो बार राहुल ने उसके साथ दुष्‍कर्म किया। विरोध करने पर फिर शादी का झांसा दिया। लेकिन बाद में वह शादी से मुकर गया। इसके बाद उसने परिवारवालों को घटना की जानकारी दी।

गिरफ्तारी के बाद लड़के वाले हुए शादी के लिए तैयार लेकिन

बताया गया है कि लड़की से घटना की जानकारी मिलने पर परिवार के लोग सन्‍न रहे गए। फिर लड़की को लेकर उसके घर वाले राहुल के घर पहुंचे। वहां सारी बात बताते हुए शादी का दबाव बनाया। लेकिन उसके घर वाले पूरी तरह मुकर गए। लड़के की मां वहां लड़की पर गंभीर आरोप लगाने लगी। इसके बाद दो बार पंचायत भी हुई लेकिन वे लोग नहीं माने। तब बुधवार को लड़की थाने पहुंची और दुष्‍कर्म की एफआइआर करा दी। लड़की थाने में ही थी इस दौरान पुलिस आरोपित को गिरफ्तार कर ले आई। उसकी गिरफ्तारी के बाद युवती पुलिस पर राहुल को छोड़ने का दबाव बनाने लगी। युवती पुलिस को कह रही थी कि वह अब विवाह करने को तैयार हो गया है। पुलिस ने कहा कि अब एफआइआर हो चुकी है। इसलिए अब जो भी होगा वह कोर्ट से ही। इसके बाद पुलिस ने आरोपित को जेल भेज दिया।