तरवारा के हरिहरपुर लालगढ़ पंचायत के मुखिया श्री रामचंद्र प्रसाद यादव की सतर्कता से बची उनकी जान, नहीं तो हो जाते अपराधियों की गोली के शिकार

0
  • मौके का लाभ उठाकर मुखिया ने छीनी अपराधियों के हथियार
  • सूचना पर पहुंची जी. बी. नगर थाने की पुलिस
  • घटना के बाद मुखिया के दरवाजे पर ग्रामीणों की उमड़ी भीड़

परवेज अख्तर/सिवान :
सोमवार की रात करीब 8 बजे सिवान जिले के जी. बी. नगर थाना क्षेत्र के हरिहरपुर लालगढ़ पंचायत से एक बड़ी खबर सामने उभर कर आ रही है कि जहां पूर्व से घात लगाकर बैठे अपराधियों ने पंचायत के मुखिया श्री रामचंद्र प्रसाद यादव पर जान मारने की नियत से हथियार तान दी। लेकिन मुखिया श्री रामचंद्र प्रसाद यादव की सतर्कता से उनकी जान जाते-जाते बच गई। घटना को अंजाम देने वाला अपराधी पंचायत के ही परमा गिरी का बेटा सोनू गिरी बताया जाता है।जो हाल ही में अपराधी सोनू गिरी जेल से छूट कर आया है।उक्त घटना के बाद पूरे पंचायत में यह सनसनीखेज मामला जंगल में लगी आग की तरह फैल गई तथा सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण मुखिया के दरवाजे पर इकट्ठा होने लगे।बाद में इस घटना की सूचना मुखिया श्री रामचंद्र प्रसाद यादव ने स्थानीय जी.बी. नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर श्री प्रमोद कुमार सिंह को दी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2023-10-11 at 9.50.09 PM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.50 AM
WhatsApp Image 2023-10-30 at 10.35.51 AM
ahmadali
WhatsApp Image 2023-11-01 at 2.54.48 PM

सूचना मिलने के तुरंत बाद इंस्पेक्टर श्री प्रमोद कुमार सिंह के निर्देश के आलोक में जी. बी. नगर थाने में पदस्थापित सहायक अवर निरीक्षक सुधाकर कुमार व अन्य पुलिस पदाधिकारी दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे तथा मामले की छानबीन शुरू कर दी।घटना के संबंध में प्राप्त जानकारी के मुताबिक मुखिया श्री रामचंद्र प्रसाद यादव सोमवार की देर संध्या अपने ही पंचायत के डीलर संदीप मांझी के घर आयोजित तिलक समारोह से भाग लेकर बाइक से अपने घर लौट रहे थे कि तभी पूर्व से घात लगाकर पंचायत स्थित यादव मोड़ के समीप अपराधी सोनू गिरी व एक अन्य बैठे हुए थे।

gathring

मुखिया श्री रामचंद्र प्रसाद को आते देख अपराधी सोनू गिरी व एक अन्य ने उन्हें घेर लिया।अभी मुखिया कुछ समझ पाते तब तक दोनों अपराधी ने मुखिया को गोली मार मौत के घाट उतारने का प्रयास किया। लेकिन मौके का लाभ उठाकर मुखिया ने अपराधी के हथियार छीन शोर मचाना शुरू कर दिए। शोरगुल का आवाज सुन दोनों अपराधी गांव के दक्षिण दिशा की ओर बाइक सवार होकर भागने में सफल रहे। खबर लिखे जाने तक पीड़ित मुखिया स्थानीय जी. बी. नगर थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने हेतु पहुंचे हुए हैं।इस संदर्भ में जी.बी. नगर थानाध्यक्ष सह इंस्पेक्टर श्री प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि आवेदन प्राप्त होते ही तुरंत आगे की कार्रवाई की जाएगी।