भए प्रकट कृपाला दीन दयाला ..के उद्घोष से गुंजायमान हुआ संपूर्ण क्षेत्र

0

परवेज अख्तर/सिवान: भारतीय त्योहारों में रामनवमी का अपना ही महत्व है। चैत्र नवरात्र के नौवें दिन रामनवमी का उत्सव भी मनाया जाता है। वैश्विक महामारी कोरोना के बीच बुधवार को जिला मुख्यालय समेत ग्रामीण क्षेत्रों में रामनवमी का पर्व मनाया गया। रात 12 बजते ही घरों में भए प्रकट कृपाला दीन दयाला .. से तथा जय श्रीराम के जयघोष गुंजायमान हो उठे थे। रामनवमी के मौके पर लोगों ने मंदिरों की बजाए अपने-अपने घरों में ही मर्यादा पुरुषोतम राम, माता सीता व पवनपुत्र हुनमान की पूजा-अर्चना कर सुख-शांति की कामना की।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इस दौरान श्रद्धालु पवनसूत हनुमान की आराधना में लीन रहे। लोगों ने घरों में हवन-पूजन कर वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के नाश के लिए प्रार्थना की। साथ ही परिवार की सुख-समृद्धि के लिए मंगलकामना की। बता दें कि कोरोना के खौफ और मंदिरों में सन्नाटा पसरा हुआ है। रामनवमी के मौके पर भक्तों की भीड़ से गुलजार रहने वाला शहर कोरोना संक्रमण के कारण इस बार बिल्कुल सुनसान रहा। रामनवमी में यह दूसरी बार है जब मंदिरों में सन्नाटा पसरा हुआ था।