गोपालगंज में आज साबित हो गई जिस्म दो और जान एक

0
  • पत्नी की मौत के सदमे को बर्दाश्त नहीं कर पाया पति
  • एक ही चीते पर दोनों की जली लाशें

परवेज अख्तर/सिवान :
आप लोगों ने जरूर सुना होगा कि जिस्म दो और जान एक लेकिन आज यह साबित हो गया कि सचमुच जिस्म दो और जान एक होते हैं। आज गुरुवार को गोपालगंज जिले से ऐसी ही एक बड़ी सनसनीखेज घटना सामने उभर कर सामने आई। जहां हथुआ प्रखंड के थाना मीरगंज के एकडंगा बाजार के रहने वाली महिला लीलावती देवी का निधन गुरुवार की दोपहर अचानक हो गया। लाश को काफी तनावपूर्ण स्थिति में निहारते हुए उसके पति सुबाष ने अपनी भी अर्धांगिनी कहे जाने वाली पत्नी के सदमे को बर्दाश्त नहीं कर पाया और करीब 40 मिनट के अंदर वह भी दम तोड दिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

shadhma se maut

दोनों की हुई अचानक मौत से गांव में सनसनी तो फैल गई लेकिन जिस्म दो और जान एक की कहानी चरितार्थ करते हुए दोनों पति पत्नी दुनिया से चल बसे। उधर एक साथ हुई पति-पत्नी की मौत से गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया है। ग्रामीणों ने पति पत्नी की लाश को गुरुवार को करीब 5:00 बजे गांव के बगल श्मशान घाट में ले जाकर एक ही चिता पर लिटा कर पंचतत्व में विलीन कर दिया।