दो दिन बाद भी अग्नि पीड़ितों को नहीं मिला मुआवजा

0

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के सिसवन थाना क्षेत्र के गंगपुर सिसवन गांव में शिवाला के पास शनिवार की दोपहर बाद लगी आग से पीड़ित परिवारों को दो दिन बाद भी आर्थिक सहायता नहीं मिली। अगलगी की घटना में लाखों रुपए मूल्य की संपत्ति का नुकसान हुआ। अगलगी की घटना में आरा मशीन भी जल कर राख हो गयी थी। इस घटना में 23 परिवारों के आवासीय व गैर आवासीय मकान जले थे। अंचल कार्यालय इनमें से महज तीन लोगों को ही आर्थिक सहायता देने की बात कर रहा है। जिन्हें आर्थिक सहायता देने की बात हो रही है उनमें सलाउद्दीन मंसूरी की पत्नी सहाना बेगम, रमेश यादव की पत्नी सपना देवी व स्वर्गीय प्रभुनाथ यादव की पत्नी राजकुमारी कुंवर शामिल हैं। अन्य परिवारों को मुआवजा से वंचित होना पड़ेगा। अगलगी में क्यामुद्दीन मंसूरी की पत्नी शाहजहां बेगम घायल हो गई थी। इस घटना में अमर यादव, मैनुद्दीन मंसूरी, प्रदुम्न प्रसाद, उर्मिला कुंवर, छठुलाल बीन, शाहजहां बेगम सहित अन्य के घर जलकर राख हो गए थे। देवनमाली की आरा मशीन जलकर पूरी तरह राख हो गई। आरा मशीन पर रखी लाखों रुपए मूल्य की लकड़ी जल गई। बीडीओ रंजीत कुमार सिंह व थानाध्यक्ष अजय कुमार पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंच स्थिति का जायजा लिया था। राजस्व कर्मचारी सुभाषचंद्र सिंह ने बताया कि तीन लोगों को फिलहाल मुआवजा दिया जायेगा। शेष 20 लोगों की रिपोर्ट बनाकर जिले को भेजी जा रही है वहां से जैसा आदेश होगा किया जायेगा।

Loading...