सेल्फी लेने के दौरान दोस्त ने पुल से नदी में दिया था धक्का, मौत

0
pul

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के रघुनाथपुर प्रखंड के स्थानीय थाना क्षेत्र के कांड 187/19 का पुलिस ने उद्भेदन कर दिया है। मामले में लापता छात्र शुभम को उसके दोस्त ने मांझी पुल से नदी में धक्का दे दिया। इससे वह नदी की तेज धार में बह गया। इस मामले में पुलिस ने घटना में प्रयुक्त बोलेरो को जब्त करते हुए उसके चालक को गिरफ्तार कर लिया है। चालक से पूछताछ के क्रम में मामले का उद्भेदन हो पाया। मामले में मृत छात्र के पिता ने शुभम के दोस्त रवि रौशन पर ही उसके अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। घटना के बाद आरोपित फरार है जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। मृत छात्र शुभम रघुनाथपुर के राजद विधायक हरिशंकर यादव का रिश्तेदार बताया जाता है। मामले में थानाध्यक्ष मनोज कुमार प्रभाकर ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर शुभम कुमार को ले जाने वाली वाहन बोलेरो (बीआर 29 पीए 5183) तथा उसके चालक संठी निवासी पवन कुमार को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, इसके बाद मामले का पटाक्षेप हो सका। पूछताछ के क्रम में चालक पवन कुमार ने बताया कि 19 अगस्त को रवि रौशन ने शुभम को संठी बुलाया और वहां से बोलेरो रिजर्व कर यूपी के बलिया जिले के बैरिया पहुंच कर रवि दोनों ने पार्टी किया। घर वापसी के क्रम में मांझी पुल पर सेल्फी लेने के लिए गाड़ी रोक रवि रौशन एवं शुभम दोनों पुल पर उतरे थे। मांझी पुल पर नदी के किनारे सेल्फी लेने के दौरान रवि रौशन ने शुभम को पीछे से धक्का दे दिया इससे शुभम नदी में गिर गया। इसके बाद रवि रौशन और मैं घर वापस आ गए। इधर फुलवरिया निवासी शुभम के पिता सीताराम चौधरी का आरोप है कि शुभम ने एफसीआइ में नौकरी के लिए रवि रौशन को 1 लाख 80 हजार रुपए दिया था। इसके अलावा नौकरी के नाम पर तीन-चार साथियों ने भी शुभम के माध्यम से रवि को करीब 10 लाख रुपए दिए थे। नौकरी नहीं मिलने पर शुभम रवि रौशन से रुपए लौटाने की मांग करने लगा। रवि रौशन ने शुभम को रास्ते से हटाने की नीयत से जान से मारने की योजना बनाई थी। इधर थानाध्यक्ष प्रभाकर ने बताया कि एसपी नवीन चंद्र झा के निर्देश पर चालक को थाना में रखा गया है। इस कांड में आरोपित संठी निवासी राजेश कुमार, पत्नी अर्चना सिंह एवं पुत्र रवि रौशन सिंह भूमिगत हैं। तीनों आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इनकी गिरफ्तारी के लिए संदिग्ध ठिकानों पर छापामारी जारी है।