भगवानपुर में संविधान की प्रस्तावना के साथ वर-वधू शादी के बंधन में बंधे

0

परवेज अख्तर/सीवान : जिले के भगवानपुर हाट के सुघरी विवाह भवन में अंबेडकर जयंती पर अनोखा शादी देखने को मिली. 14 अप्रैल बाबा साहेब डॉ. बीआर अंबेडकर के जन्मदिन पर संविधान की शपथ लेकर वर वधू शादी के बंधन में बंधे. सारण जिला के एकमा प्रखंड के जामनी अमनौर गांव के बीएओ विक्रमा मांझी के पुत्र विवेक कुमार का सीवान जिला के गोरेयाकोठी प्रखंड के भगौता गांव के शिक्षक जवाहर मांझी की पुत्री प्रतिभा कुमारी की शादी करने के लिए बाबा साहेब डॉ. बीआर अंबेडकर की जयंति का दिन चुना गया. जिसमें वर-वधू ने सात फेरों के स्थान पर संविधान की शपथ लेकर शादी की. शादी में प्रोफेसर बीरेंद्र प्रसाद यादव ने मंत्र के स्थान पर संविधान की प्रस्तावना का वर-वधू को शपथ दिलाई तथा पंचशील की शपथ दिलाते हुए खुशहाल दापंत्य की कामना की.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

इस मौके पर उपस्थित वर-वधू पक्ष से सभी लोग खड़े होकर संविधान की प्रस्तावना को एक हाथ को आगे बढ़ा कर संकल्प लिया तथा दोनों को आशीर्वाद दिया. कोरोना संक्रमण काल होने के कारण शादी समारोह में सेनेटाइजर, मास्क आदि की व्यवस्था की गई थी. इस अनोखे शादी होने की प्रखंड क्षेत्र में चर्चा का विषय बना है. लोग अंधविश्वास व पाखंडवाद से मुख्य शादी करने के लिए दोनों परिवार की प्रशंसा कर रहे है. शादी समारोह में कौड़िया पंचायत के मुखिया हीरालाल मांझी, मुखिया डॉ. परशुराम शर्मा, जिला परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष अजय मांझी, डॉ मनोरंजन कुमार महतो, मिशन गीतकार रामजी राम सहित दोनों परिवार से रिस्तेदार शामिल हुए

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here