तरैया में निजी क्लिनिक में इलाज के दौरान महिला की मौत, परिजनों ने डॉक्टर की लापरवाही का लगाया आरोप

0

छपरा: जिले के सारण प्रखंड मुख्यालय की तरफ जाने वाली मुख्य सड़क के किनारे स्थित स्वास्तिक हॉस्पिटल में गुरुवार की अहले सुबह इलाज के दौरान एक महिला की मौत से अफरा तफरी का माहौल हो गया और परिजनों ने जमकर हंगामा किया। जानकारी के अनुसार मृतिका फरीदनपुर गांव निवासी रंजीत रावत की 33 वर्षीय पत्नी माला देवी बताई जाती है। मृतिका के ससुर सामा राउत ने बताया कि बुधवार को पतोहू के पेट में दर्द होने की शिकायत पर उक्त हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां डॉक्टर ने बताया कि बच्चेदानी का ऑपरेशन करना पड़ेगा और इसके लिए 12 हजार रुपये खर्च आयेगा। बाद में बोले कि पेट में दो पथरी भी है। इसका ऑपरेशन बोलकर 5 हजार और लिया। इस तरह हमलोगों ने कुल 17 हजार रुपये जमा किये और ऑपरेशन हुआ।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

लेकिन आज सुबह 03:00 बजे के करीब मेरी पतोहू की मौत हो गई। परिजनों ने डॉक्टर की लापरवाही से मौत होने का आरोप लगाते हुए हंगामा करना शुरू कर दिया और देखते ही देखते मृतिका के गांव से सैकड़ों लोग अस्पताल पर पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। मामला बिगड़ता देखकर डॉक्टर समेत सभी अस्पताल कर्मी वहां से फरार हो गए और अस्पताल में इलाज करा रहे अन्य मरीज भगवान के भरोसे रह गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए स्थानीय लोगों ने तरैया थाने को सूचित किया। घटना की सूचना पाकर स्थानीय थाने की पुलिस मौके पर पहुंची एवं स्थिति का जायजा लेने के बाद परिजनों द्वारा लिखित आवेदन देने को कहा तथा आगे की कार्रवाई में जुट गई। सामचार प्रेषण तक इस मामले में प्राथमिकी दर्ज नही हुई थी।