कोविड-19 टीकाकरण के प्रति नुक्कड़ नाटक के माध्यम से किया गया जागरूक

0
  • सदर अस्पताल व छपरा जंक्शन पर हुआ नुक्कड़ नाटक का मंचन
  • सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के सहयोग से जिला स्वास्थ समिति के द्वारा कराया जा रहा है नुक्कड़ नाटक
  • टीकाकरण के प्रति झिझक को नाटक के माध्यम से किया गया
  • स्वयं-परिवार व समाज की रक्षा के लिए निर्भीक होकर कराएं टीकाकरण

छपरा: वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के खिलाफ जिले में कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। टीकाकरण के प्रति आम जनों में फैली भ्रांति व झिझक को दूर करने के उद्देश्य से जिला स्वास्थ समिति सारण के द्वारा सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के सहयोग से नुक्कड़ नाटक के माध्यम से जागरूकता फैलाने का प्रयास शुरू किया गया है। शुक्रवार को जिले के 2 स्थानों पर पटना से आए कलाकारों के द्वारा नुक्कड़ नाटक का मंचन किया गया। नुक्कड़ नाटक की शुरुआत सदर अस्पताल से की गई। जहां पर नाटक के माध्यम से ओपीडी व इमरजेंसी में आए मरीजों और उनके परिजनों को कोरोना से बचाव एवं उपचार तथा कोविड-19 टीका के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। वही दूसरा पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा जंक्शन पर नुक्कड़ नाटक का मंचन किया गया। जहां काफी संख्या में यात्रियों को कोविड-19 टीकाकरण के बारे में जागरूक किया गया। नुक्कड़ नाटक के माध्यम से यह जानकारी दी गई कि कोरोना का संक्रमण किसी जात-पात, ऊंच-नीच देखकर नहीं होता है बल्कि यह किसी को भी हो सकता है। इससे बचाव के लिए सावधानी अति आवश्यक है। इसके साथ ही आम जनों को यह भी जानकारी दी गई कि कोरोना खिलाफ कोविड19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत की जा चुकी है। प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को टीकाकरण किया जा रहा है। सदर अस्पताल में जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ अजय कुमार शर्मा, डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ रंजीतेश कुमार, यूनिसेफ के के एसएमसी आरती त्रिपाठी, यूएनडीपी के कोल्ड चेन मेनेजर अंशुमान पांडेय, सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के राज्य कार्यक्रम प्रबंधक रंजीत कुमार प्रमंडलीय कार्यक्रम समन्वयक गणपत आर्यन समेत अन्य स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

jagrukta abhiya

स्वयं- परिवार व समाज की सुरक्षा के लिए निर्भीक होकर कराएं टीकाकरण

नुक्कड़ नाटक के माध्यम से आम जनों को यह जानकारी दी गई कि कोविड-19 का टीका पूरी तरह से सुरक्षित है। पूरा जांच-परख के बाद ही टीकाकरण अभियान की शुरुआत की गई है। इससे घबराने और डरने की जरूरत नहीं है। हमारे वैज्ञानिक धन्यवाद के पात्र हैं कि इतने कम समय में महामारी के खिलाफ कोविड-19 का टीका बनाने में सफल रहे हैं। स्वयं परिवार और समाज की सुरक्षा के लिए सभी को वह कोविड-19 का टीका लेना चाहिए। ताकि संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके या इसे खत्म किया जा सके।

जन जागरूकता फैलाने में सीफार का सहयोग सराहनीय

tikakaran jagrukta

सिविल सर्जन डॉ माधवेश्वर झा ने कहा कि कोविड 19 को लेकर जन जागरूकता फैलाने में सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च का सहयोग काफी सराहनीय रहा है। कोरोना काल में सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के द्वारा लगातार मीडिया के माध्यम से जन जागरूकता फैलाने में जो सहयोग किया गया है वह काफी महत्वपूर्ण है। वर्तमान में कोविड-19 टीकाकरण को लेकर भी सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च के द्वारा लगातार जागरूकता फैलाया जा रहा है। अब नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी आम जनों को जागरूक करने की पहल शुरू की गई है। जिसके माध्यम से कोविड-19 टीकाकरण को लेकर आम जनों में फैली भ्रांतियों को दूर करने का प्रयास किया जा रहा है।

टीकाकरण के प्रति लोगों के मन से झिझक को किया गया दूर

नुक्कड़ नाटक के माध्यम से कोविड-19 टीकाकरण के प्रति आम लोगों में जो झिझक बनी हुई है उसे दूर करने का प्रयास किया गया। सदर अस्पताल व छपरा जंक्शन पर नुक्कड़ नाटक देखने वाले हर वर्ग के लोगों ने कहा कि इसके माध्यम से हम लोगों को काफी महत्वपूर्ण जानकारी मिली है । टीकाकरण को लेकर जो मन में भ्रांतियां थी वह दूर हुआ है, और जब भी आम जनों को टिका दिया जाएगा तो हम बेझिझक जाकर अपना टीकाकरण करवाएंगे और इसके लिए दुसरो को भी प्रेरित करेंगे।

दोनों डोज लेने के बाद ही सफल होगा टीकाकरण

नुक्कड़ नाटक के माध्यम से यह जानकारी दिया गया कि कोविड-19 टिकाकरण 2 डोज में पूरा होगा। व्यक्ति को जिस दिन टिका दिया जाएगा उसके 28 दिन बाद दूसरा डोज भी लेना अनिवार्य है। दूसरा डोज लेने के 14 दिन बाद रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होगा। इसलिए सभी को दोनों डोज का टीका लेना अनिवार्य है। अगर सभी लोग दोनों डोज का टीका लेंगे तभी यह टीकाकरण अभियान सफल हो पाएगा।

कड़ाई भी दवाई भी

नुक्कड़ नाटक के माध्यम से यह संदेश दिया गया कि कोरोना का संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है। इसलिए आप सभी से यह अपील है कि कोविड-19 अनुरूप व्यवहारों का पालन जरूर करें। जब भी घर से बाहर निकले मास्क का उपयोग करें, सामाजिक दूरी का पालन करें और अपने हाथों को साफ करते रहें। कोविड-19 लेने के बाद भी इन नियमों का पालन करते रहना है।

पूर्ण सुरक्षा के लिए टीकाकरण के बाद भी पांच नियमों का करें पालन

  • मास्क सही से पहनें
  • हाथ को नियमित रूप से धोएं
  • 2 गज की दूरी बनाएं रखें
  • लक्षण होने पर तुरंत खुद को दूसरों से अलग रखें
  • लक्षण होने पर तुरंत जांच कराएं