छपरा: नक्सली हमले में शहीद सीआरपीएफ जवान का पार्थिक शरीर पैतृक गांव पहुंचते ही गमगीन हुआ माहौल

0
  • सीआरपीएफ जवान का पार्थिक शरीर पहुचते ही गमगीन हुआ माहौल
  • अंतिम यात्रा में शामिल हुए हजारों लोग, मंतोष तुम अमर रहे के नारों से गूंज उठा गांव

छपरा: जिले के तरैया थाना क्षेत्र के गलीमापुर मसरख गांव निवासी रिटायर्ड सब इंस्पेक्टर मुसाफिर सिंह के पुत्र शहीद जवान मंतोष कुमार सिंह का पार्थिव शरीर शनिवार की संध्या गांव में पहुंचते ही पूरा गांव गमगीन हो गया और उपस्थित लोगो की आंखें नमन हो गई। शहीद मंतोष के अंतिम दर्शन को उमड़ी हजारों लोगों की भीड़ में बस एक ही नारा गूंज रहा था मंतोष तुम अमर रहे, भारत माता की जय, की नारों से पूरा इलाका सन हो गया था। शनिवार को दोपहर 02:30 बजे के करीब में पटना एयरपोर्ट पर शहीद मंतोष का पार्थिक शरीर पहुचने की सूचना पर मंतोष के घर पर हजारों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। सैकड़ों बाइक सवार युवक तिरंगा झंडा लिए शहीद मंतोष के पार्थिक शरीर आने के इंतजार में थे। संध्या 05:45 के करीब में शहीद का पार्थिक शरीर घर पहुचा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

जिसके बाद पूरा माहौल गमगीन हो गया। पार्थिक शरीर के साथ आये सीआरपीएफ के जवानों ने शहीद को अंतिम सलामी दी। जिसके बाद शहीद के पार्थिक शरीर का अंतिम संस्कार किया गया। बताते चलें कि गलीमापुर गांव निवासी मंतोष कुमार सिंह वर्ष 2001 में सेना की बहाली में सीआरपीएफ जवान के रूप में भर्ती हुए थे। वह सीआरपीएफ में हेड कांस्टेबल जीडी के पद पर हैदराबाद में तैनात थे। जहां शुक्रवार को वे शहीद हो गए। उनकी मौत की सूचना मिलते ही घर में कोहराम मच गया। परिजन चीत्कार मार कर रोने लगे। उनकी शादी वर्ष 2002 में हुई थी। उन्हें एक पुत्र शुभम कुमार 15 वर्ष व एक पुत्री छवि कुमारी 13 वर्ष है।

मंतोष का पार्थिक शरीर पहुचते ही पत्नी चितलेखा देवी, पिता मुसाफिर सिंह और परिवार के अन्य सदस्य चीत्कार मारकर रोने लगे। घटना की सूचना पूरे गांव में आग की तरह फैल गई और शनिवार को उनके पार्थिक शरीर गांव पहुंचने की सूचना पर तरैया, पानापुर, इसुआपुर, मसरख समेत आसपास के गांव के हजारों की संख्या में लोग शहीद मंतोष की अंतिम दर्शन को पहुंचे हुए थे। सैकड़ों बाइक सवार युवक तिरंगा झंडा लेकर मंतोष तुम अमर रहे, भारत माता की जय की नारे लगा रहे थे। मौके पर मढ़ौरा डीएसपी इंद्रजीत बैठा, तरैया थानाध्यक्ष राजीव रंजन कुमार सिंह, विधानसभा सत्ता रूढ़ दल के उप मुख्य सचेतक सह तरैया विधायक जनक सिंह, भाजपा नेत्री प्रियंका सिंह, धीरज सिंह, शिक्षक नेता रंजीत सिंह, लंकेश बाबा, समेत हजारों की संख्या में लोग उपस्थित थे।