छपरा: स्वच्छ स्वास्थ्य सर्वत्र अभियान: शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के कर्मियों को दिया गया प्रशिक्षण

0
  • जिला स्वास्थ्य समिति सभागार में हुआ प्रशिक्षण
  • केयर इंडिया के डीटीएल ने कर्मियों को दी जानकारी

छपरा: बेहतर स्वच्छता, ज्यादा जागरूकता और स्वस्थ जीवनशैली के जरिये बेहतर स्वास्थ्य का लक्ष्य हासिल करने के उद्देश्य से ‘स्वच्छ स्वस्थ सर्वत्र’ अभियान की शुरुआत की गयी है। इसको लेकर शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बड़ा तेलपा व मासूमगंज के स्वास्थ्यकर्मियों को एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। जिला स्वास्थ्य समिति के सभागार में केयर इंडिया के डीटीएल संजय कुमार विश्वास के द्वारा सभी चिकित्सकर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया। केयर इंडिया के डीटीएल ने बताया कि सरकार ने स्वच्छता सुधार, जागरूकता बढ़ाने तथा स्वास्थ्यप्रद जीवनचर्या के जरिये बेहतर स्वास्थ्य परिणाम हासिल करने के लिये स्वच्छ स्वस्थ सर्वत्र अभियान की शुरुआत की है। इस कार्यक्रम के माध्यम से स्वास्थ्य केंद्रों को साफ एवं स्वच्छ बनाने पर होने वाला मामूली खर्च किस तरह स्वास्थ्य के क्षेत्र में बड़ा फायदा देगा क्योंकि उससे संवहनीय या संक्रामक रोगों से बचा जा सकेगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

स्वच्छता एवं सफाई समेत गुणवत्ता मानक पूरा करने पर पुरस्कार:

जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीसी रमेश चंद्र कुमार ने बताया कि कायाकल्प के अंतर्गत प्रत्येक जिले में एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को स्वच्छता एवं सफाई समेत गुणवत्ता मानक पूरे करने के लिये पुरस्कार दिया जाएगा। कायाकल्प के अंतर्गत जिले में पुरस्कृत होने वाला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जिस ग्राम पंचायत में आता होगा, उस पंचायत को स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत चिह्नित किया जाएगा तथा उसे जल्द से जल्द खुले में शौच से मुक्त बनाने पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

आरोग्य दिवस एवं सामुदायिक बैठक के दौरान किया जायेगा जागरूक:

इस अभियान के तहत नोडल पदाधिकारी आरोग्य दिवस या सामुदायिक आशा बैठक के दौरान लोगों को स्वच्छता एवं साफ- सफाई के बारे में जागरूक करेंगे। इसके साथ हीं गांव के मुखिया व प्रधान के सहभागिता के साथ लोगों को खुले में शौच मुक्त के लिए जागरूक करेंगे।

बेहतर समुदाय एवं स्वच्छता बनाने की परिकल्पना होगी पूरी:

‘स्वच्छ–स्वस्थ–सर्वत्र’ इस अर्थ में अनूठी पहल है कि उपलब्धियां हासिल करने में सुगमता होगी एवं सुदृढ़ता मिलेगी और पूरकता आयेगी । जिससे पणधारियों को एक साथ कार्य करने व समस्या समाधान का लक्ष्य प्राप्त करने में मदद मिलेगी। इस पहल में स्वच्छता की कमी व जल जनित रोगों से संबंधी रोग के बोझ को कम करने के द्वारा बेहतर समुदाय व्यवहार व स्वच्छ सार्वजनिक स्वास्थ्य सुविधा केन्द्र को एक दूसरे का पूरक बनाने की परिकल्पना की गई है।