छपरा: मशरक में कोविड टीकाकरण का एएनएम को देकर विधिवत हुआ शुभारंभ

0

टीकाकरण के दौरान छः एएनएम को आया चक्कर,प्रथम स्तर के इलाज से हुई ठीक

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

छपरा : जिले के मशरक प्रखंड के लिए शनिवार का दिन खुशखबरी का दिन घोषित हुआ।‌ आज का दिन पीएचसी के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में दर्ज किया जाएगा।आखिरकार मौका आ गया है जब करीब आठ माह कोरोना महामारी से जूझ रहे लोगों को कोरोना महामारी से बचाव के टीकाकरण की शुरुआत हुई। मशरक पीएचसी में कोरोना वैक्सीन की पहली खेप में एएनएम पुनम कुमारी को देकर विधिवत शुभारंभ किया गया। मौके पर मढ़ौरा अपर अनुमंडल पदाधिकारी नलिन प्रताप, पीएचसी प्रभारी डॉ अनंत नारायण कश्यप, डॉ एस के विद्यार्थी, डॉ पवन कुमार भारती, डॉ रिजवान अहमद, डॉ मंनोरंजन सिंह, डॉ आशीफ इकबाल, स्वास्थ्य प्रबंधक परवेज रजा,प्रखंड स्वास्थ्य मूल्यांकन पदाधिकारी प्रियाशु प्रकाश, बीसीएम लव कुश कुमार, बीएमसी बासुकीनाथ नाथ पांडेय, निसार अहमद समेत आधा दर्जन स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहे।

टीकाकरण के लिए सुबह 11 बजे फीता काट कर पहले चरण में एक महिला एएनएम को टीका देकर शुरूआत हुआ। इस दौरान मढ़ौरा अपर अनुमंडल पदाधिकारी नलिन प्रताप ने बताया कि कोरोना वैक्सीन देने के लिए सभी तैयारियां कर ली गई थी जिसकी उन्होंने जांच-पड़ताल कर शुरुआत कराया। डॉ अनंत नारायण कश्यप ने मीडिया को बताया कि वैक्सीन को पूरी सुरक्षा के साथ फ्रीजर में अस्पताल में रखा गया था। टीकाकरण के बाद लोगों के लिए बेड तैयार किए गए हैं, प्रत्येक बेड पर जिन लोगों को वैक्सीन लगाई गयी, उनकी देखभाल के लिए एक-एक स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी पूरे समय मौजूद हैं। प्रत्येक वैक्सीन लगवाने वाले व्यक्ति का सबसे पहले बीपी, शुगर और अन्य जांचे की गयी। इसके बाद वैक्सीन का डोज दिया गया। स्वास्थ्य प्रबंधक परवेज रजा ने बताया कि अस्पताल की सुरक्षा की पूरी व्यवस्था की गई है। आम लोगों का पहुंच रोकने के लिए अस्पताल में बेरीकेड्स लगाकर सुरक्षित किया गया है। अंदर सिर्फ टीकाकरण कर्मी और जिनको टीकाकरण पड़ना हैं वे ही आए। वही एक एम्बुलेंस पीएचसी परिसर में आपात स्थिति के लिए तैयार खड़ी हैं।शाम तक 75 लोगों को टीका दिया गया।