देश के प्रति समर्पण ही राष्ट्र सेवा है : पूर्व आईएएस

0
samaroh

परवेज़ अख्तर/सिवान : जिले के जीरादेई प्रखंड के नरेंद्रपुर गांव में रविवार को शहीद परिजन सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ 1942 के आंदोलन में बिहार के सात शहीदों में अग्रणी पंक्ति में रहे शहीद उमाकांत सिंह (रमणजी)के प्रतिमा पर आगत अतिथियों द्वारा माल्यार्पण कर किया गया। उसके बाद कार्यक्रम का उद्घाटन छात्रों के राष्ट्र गान के साथ किया गया।तत्पश्चात लोक गायिका काबेरी ने- ये मेरे वतन के लोगों जरा आंख में भर लो पानी… देश भक्ति प्रस्तुत कर किया। स्वागत भाषण सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश सह चेयरमैन शिवकीर्ति सिंह ने किया। उन्होंने आगत अतिथियों का स्वागत करते हुए उन्होंने कहा कि शहीदों के बलिदान से देश आजाद हुआ। उन्होंने बताया कि आज पूरा देश शहीदों के शहादत से गमगीन है। उन्होंने युवाओं को शहीदों के बलिदान से प्रेरणा लेने की सलाह दी तथा सबको राष्ट्र के विकास में अपनी ऊर्जा खपत कर भारत को पुनः विश्व गुरु बनने में सहयोग का सुझाव दिया। पूर्व न्यायाधीश ने शहीदों के सम्मान में खड़े होकर दो मिनट का मौन रहने के लिए कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों से निवेदन किया। कार्यक्रम का संचालन युवा समाजसेवी राहुलकीर्ति सिंह ने किया। पूर्व आईएएस झारखंड के पूर्व प्रधान सचिव एवं केंद्रीय पूर्व अपर सचिव विमल कीर्ति सिंह ने कार्यक्रम के पृष्ठभूमि को विस्तार से बताते हुए शहीदों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके राजद की हिना शहाब, लीलावती गिरि, विधायक हरिशंकर यादव,पूर्व मंत्री विक्रम कुंवर, पूर्व विधायक मानिकचंद्र राय, समाजसेवी संजय सिंह, कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष विनयचंद्र श्रीवास्तव, भाजपा नेता जितेंद्र स्वामी, जितेश सिंह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष डॉ. विधुशेखर पांडेय, क्षत्रिय समाज के प्रदेश अध्यक्ष विनय बिहारी सिंह,भाजपा नेता विनोद तिवारी, जदयू नेता झाम बाबा, मुखिया संघ के जिलाध्यक्ष अजय चौहान,राजद नेता हरेंद्र सिंह समेत काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।