छपरा: वैक्सीन के लिए बुजुर्गों में दिखा जोश, बिना डरे लिया टीका

0
  • आईटीबीपी के 50 जवानों ने लिया पहला डोज
  • सदर अस्पताल के टीकाकरण केंद्र पर काफी संख्या में पहुंचे बुजुर्ग
  • आज से सभी सीएचसी व पीएचसी पर होगा टीकाकरण

छपरा: कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए जिले में सोमवार से बुजुर्गों (सीनियर सिटीजन) का टीकाकरण प्रारंभ हो गया। टीकाकरण को लेकर बुजुर्गों में भी उत्साह देखने को मिला। सदर अस्पताल में के टीकाकरण केंद्र पर काफी संख्या में शहर के बुजुर्गों ने अपना टीकाकरण कराया । तीसरे चरण में दूसरे दिन सदर अस्पताल में टीकाकरण किया गया। इसमें चिह्नित लाभार्थियों में 60 वर्ष से अधिक व 45 वर्ष से 59 वर्ष के ऐसे व्यक्ति जो हाई रिस्क जैसे बीपी, सुगर व किडनी संबधी बीमारी से ग्रसित थे ,को टीका लगाया गया। बुधवार से जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में बुजुर्गों को टीका लगाया जायेगा। वहीं आयुष्मान भारत योजना के तहत सूचीबद्ध निजी अस्पतालों में भी नि:शुल्क टीकाकरण करा सकते हैं । वहीं प्रथम चरण के स्वास्थ्य कर्मियों को दूसरा तथा दूसरे चरण के फ्रंटलाईन वर्करों को प्रथम डोज का टीका दिया जा रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

टीका लगवाने के बाद बुजुर्गों ने कहा- इससे नहीं हो रही कोई परेशानी

कोविड-19 टीका लेने वाले बुजुर्गों ने इसे पूरी तरह सुरक्षित बताया। राम नारायण गुप्ता, बिमला देवी सहित अन्य लोगों ने बताया कि हम टीका लगवाने के बाद अच्छा महसूस कर रहे हैं। किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं हो रही है। जब ये टीका हमारी सुरक्षा के लिए है तो इससे डरने की क्या जरूरत है। उन्होंने कहा कि लोगों को खुद आगे आकर कोराना वैक्सीन लगवानी चाहिए, जिससे वे सुरक्षित रहें।

covid vacine line

मैने अपनी जिम्मेदारी निभाई:

शहर की 82 वर्षीय बुजुर्ग महिला शैला जैन ने टीका लेने के बाद कहा कि मैंने टीका लेकर अपनी जिम्मेदारियों को निभाया है। आप सभी लोग भी टीका लेकर कोरोना मुक्त परिवार एवं समाज का निर्माण करें। साथ ही मास्क जरूर लगाएं व दो गज की सामाजिक दूरी का पालन करें। उन्होंने कहा कि टीका लेने के बाद कोई परेशानी नहीं हुई है।

आईटीबीपी के 50 जवानों ने लिया टीका :

सदर अस्पताल के टीकाकरण केंद्र में मंगलवार को फ्रंटलाईन वर्करों का भी टीकाकरण किया गया। जिसमें आईटीबीपी कैंप जलालपुर के 50 जवानों ने टीका लेकर समाज को सकारात्मक संदेश दिया। सभी ने कहा कि हमें वैज्ञानिकों को पूरा भरोसा है। वैक्सीन सुरक्षित और प्रभावी है। इस अभियान में सभी को आगे आना चाहिए।

ऑनसाइट किया गया बुजुर्गों का रजिस्ट्रेशन:

जिला स्वास्थ्य समिति के डीएमएंडई भानू शर्मा ने बताया कि कोविड टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति सेल्फ रजिस्ट्रेशन करने में असमर्थ है तो उसका रजिस्ट्रेशन ऑनसाइट यानि टीकाकरण केंद्र पर किया जा रहा है। रजिस्ट्रेशन के लिए सरकार द्वारा निर्गत पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड होने चाहिए. साथ ही मोबाइल फोन भी होना चाहिए| मोबाइल फोन पर आए ओटीपी को कोविन पोर्टल 2.0 पर फ़ीड करना होगा। रजिस्ट्रेशन के समय किस तारीख को और कहां टीका लेना है यह खुद तय कर सकते हैं।

तीन तरीकों से करा सकते हैं रजिस्ट्रेशन:

  • कोविन पोर्टल
  • ऑनसाइट पंजीकरण के लिए चिह्नित निजी अस्पताल
  • आरोग्य सेतु एप के माध्यम से

इन बीमारी से पीड़ित लोगों का होगा टीकाकरण:

सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने कहा कि हार्ट फेल के मरीज, हृदय वाल्व का प्रत्यारोपण करा चुके, हदय के वाल्व की बीमारी, जन्मजात दिल की बीमारी, उच्च रक्तचाप, डायबिटीज, दिल की धमनियों में रुकावट, किडनी, लिवर की बीमारी, डायलिसिस व पेरोटोनियल डायलिसिस वाले, सांस की बीमारी, एचआईवी संक्रमित, मस्कुलर डिस्ट्राफी, इंटेलेक्चुअल डिसएबिलिटीज, नेत्रहीन, मूक-बधिर, कैंसर जैसे ल्यूकीमिया, लिम्फोमा, मायलोमा, एप्लास्टिक एनीमिया, सिकल सेल डिजीज, थैलेसीमिया मेजर, बोन मैरो फेल्योर, स्ट्रोक आदि के मरीज को यह टीका दिया जायेगा।