फ्लैग मार्च: डीएसपी के नेतृत्व ने निकाला फ्लैग मार्च, भय मुक्त रहने का दिया भरोसा

0

छपरा: बिहार विधानसभा चुनाव के बाद मशरक, इसुआपुर, तरैया थाना क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में हुई चुनावी झड़पों को देखते हुए डीएसपी मढ़ौरा इंद्रजीत बैठा की अगुवाई में मशरक थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार वर्मा, इसुआपुर थानाध्यक्ष अशोक कुमार दास, तरैया थानाध्यक्ष राजेश कुमार की मौजूदगी में पारा मिल्ट्री फोर्स के साथ फ्लैग मार्च किया। फ्लैग मार्च थाना परिसर से चलकर मशरक, तरैया, इसुआपुर थाना क्षेत्र के दर्जनों गांवों का मोटरसाइकिल और चार चक्का वाहन से भ्रमण किया। फ्लैग मार्च में मोटरसाइकिल सवार जवानों का नेतृत्व जमादार श्याम बिहारी पांडेय और अशोक चौधरी के नेतृत्व में था। मढ़ौरा डीएसपी इंद्रजीत बैठा ने कहा कि चुनाव के बाद इलाके में आम जन को भयमुक्त व शांतिपूर्ण ढंग से रखना प्रशासन की जिम्मेदारी है और पुलिस प्रशासन इसके लिए पूरी तरह से मुस्तैद है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

असामाजिक तत्वों और आपराधिक छवि के लोगों के लोगों पर पुलिस की कड़ी नजर हैं। कानून को हाथ में लेने वालों को पुलिस किसी भी कीमत पर बख्शे नही जाएंगे। डीएसपी ने बताया कि थाना स्तर पर उपद्रव करने वालों के लिए मशरक में एक कंपनी दंगा निरोधी दस्ता तैयार है। और एक कंपनी जल्द ही पहुंच जाएंगी। जो किसी भी परिस्थिति में तैयार है। मौके पर मशरक थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार वर्मा ने बताया कि विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के बाद डीजे बजाना,जुलुश निकालने पर सख्त प्रतिबन्ध है,परिणाम के विपरीत किसी दूसरे के दरवाजे पर अतिशबाजी नही करे न ही सार्वजनिक स्थानों पर किसी भी तरह का आयोजन करें। आपसी सौहार्द बिगाड़ने वालो को बख्शा नही जाएगा,उन्होंने मशरक थाना क्षेत्र के लोगों से अपील किया कि आपसी सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाये रखे।

फ्लैग मार्च के पहले डीएसपी ने की पुलिस पदाधिकारियों की बैठक

फ्लैग मार्च निकालने से पूर्व डीएसपी इंद्रजीत बैठा की अगुवाई में मशरक थानाध्यक्ष कार्यालय में पर पुलिस पदाधिकारियों के साथ बैठक कर क्षेत्र में अमन चैन बहाल रखने, पुलिस गस्त तेज करने, वाहन जांच अभियान और तेज करने, अपराधियों को गिरफ्तार करने, असमाजिक तत्वों पर विशेष नजर रखने और लम्बित काण्डो का निष्पादन शीघ्र करने सहित अन्य दिशा – निर्देश दिया। मौके पर थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार वर्मा, तरैया थानाध्यक्ष राजेश कुमार, इसुआपुर थानाध्यक्ष अशोक कुमार दास के अलावे अपर थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिंह, जमादार श्याम बिहारी पांडेय, अशोक चौधरी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।

झड़पों से बिगड़ रहा गांवों का माहौल, डर से शाम होते ही लोग भाग रहें हैं घरों की ओर

मतदान समाप्त होने के बाद से ही चुनावी रंजिश में खूनी झड़पें शुरू हो गई हैं। लोग एक-दूसरे पर बंदूकें तानने लगे हैं। बनियापुर और तरैया विधानसभा क्षेत्र के मशरक प्रखंड और इसके सटे तरैया और इसुआपुर प्रखंड के अलग-अलग गांवों में पिछले दिनों से दहशत का माहौल है। डर का आलम यह है कि घर के मर्द घर छोड़ कर कहीं जाने की नही सोच रहे हैं वही कही जाने पर शाम से पहले घरों के तरफ रूख कर लेते हैं।बीतो दिनों में अरना, हनुमानगंज, गलिमापुर,सढवारा,पोखरेरा,भटौरा, संग्रामपुर,महुली, इसुआपुर समेत।हालांकि गांवो में शांति बनाए रखने के लिए पुलिस गश्त तेज कर दी है।