आरबीएसके कार्यक्रम के अंतर्गत आईजीआईसी में जन्मजात हृदय रोग से ग्रसित बच्चों को दी गई नि:शुल्क शल्य चिकित्सा

0
  • 13 बच्चों का हुआ सफल ऑपरेशन
  • जन्मजात हृदय रोग से ग्रसित बच्चों के लिए मुफ्त स्वास्थ्य शिविर का आयोजन

पटना/ छपरा: राज्य स्वास्थ्य समिति बिहार, पटना के सहयोग से इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में शनिवार को जन्मजात हृदय रोग से ग्रसित बच्चों के इलाज के लिए मुफ्त स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का आयोजन राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत किया गया। जिसका मुख्य उद्देश्य जन्म से लेकर 18 वर्ष के बच्चों में जन्मजात हृदय रोग की पहचान कर, जांच कर, उन्हें उचित सलाह एवं शल्य चिकित्सा की सुविधा प्रदान करना है। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत गठित चलंत चिकित्सा दलों द्वारा बिहार के विभिन्न जिलों से जन्मजात हृदय रोग से ग्रसित बच्चों की पहचान कर आईजीआईसी, आईजीआईएमएस एवं एम्स पटना में रेफर किया जाता है। जहां बच्चों को निशुल्क जांच उचित चिकित्सकीय एवं शल्य चिकित्सा की सुविधा निशुल्क प्रदान की जाती है। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य के अंतर्गत राज्य के 9 मेडिकल संस्थानों के साथ राज्य स्तर पर एमओयू किया गया है। कार्यक्रम अंतर्गत विभिन्न रोगों से पीड़ित कुल 1232 बच्चों को सेल चिकित्सा की सुविधा प्रदान की जा चुकी है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

opratin sucessfol

13 बच्चे का हुआ सफल ऑपरेशन

स्वास्थ्य शिविर में विभिन्न जिलों से कुल 20 बच्चों को 102 एंबुलेंस सेवा द्वारा आयोजित पटना में लाकर भर्ती किया गया। जिनमें से 13 बच्चे मुजफ्फरपुर के 3, वैशाली के 2, जमुई के 2, पूर्वी चंपारण के 2, बेगूसराय के 2, भोजपुर एवं दरभंगा से 1-1 बच्चों का गुरुवार को ऑपरेशन के लिए योग पाया गया और सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया गया।

कार्यपालक निदेशक ने की समीक्षा

इस अवसर पर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार मौजूद थे। कार्यपालक निदेशक के द्वारा आईजीआईसी के निदेशक एवं अन्य पदाधिकारियों के साथ राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत आईजीआईसी में किए जा रहे शल्य चिकित्सा के कार्य को आगे बढ़ाने की समीक्षा की गई। साथ ही शल्य चिकित्सा के लिए आए बच्चों एवं उनके अभिभावकों से भी मुलाकात की और उनका उत्साहवर्धन किया।

इस अवसर पर डॉ सुनील कुमार, निदेशक आईजीआईसी पटना, डॉ ओम प्रकाश शाह, डॉ एके झा संयुक्त निदेशक, आईजीआईएस पटना, डॉ बीके सिन्हा, नोडल पदाधिकारी आरबीएसके, डॉ संतोष पांडेय, हृदय रोग विशेषज्ञ, डॉ आरएन द्विवेदी, राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी, आरबीएसके, मोहम्मद इम्तियाजुद्दीन, राज्य सलाहकार आरबीएसके, अमरनाथ केसरी, रवी प्रकाश, हॉस्पिटल कोऑर्डिनेटर आरबीएसके उपस्थित थे।