सीरिया की ये हालत कैसे हुई? ये लड़ाई क्यों शुरू हुई, जानिए इस पोस्ट में

0
syria

इन दिनों शायद आपने सुना होगा कि सीरिया में काफी तनाव है और वहां की हालात बदतर से भी बदतर है लेकिन ज्यादातर लोग यह नहीं जानते कि कई दशक पहले से रिया बहुत ही खूबसूरत देश हुआ करता था लेकिन आज सीरिया दुनिया के सबसे खतरनाक देशों में से एक माना जाता है। आज के इस पोस्ट में हम बात करने वाले हैं कि वहां के हालात कैसे हैं और ऐसा होने की मूल वजह क्या है?दोस्तों सीरिया पश्चिमी एशिया में स्थित एक अरब देश है जो यहां का इतिहास यहां की प्रवृत्ति यहां का मरुस्थल और उपजाऊ जमीन के लिए जाना जाता है। सीरिया इस पूरे क्षेत्र के सबसे पुराने क्षेत्र में माना जाता है और एक समय के दौरान सीरिया पूरे अरब दुनिया का सबसे बड़ा देश हुआ करता था। यहां का मशहूर शहर अलेप्पो यहाँ का सांस्कृतिक केंद्र हुआ करता था। सीरिया के साथ ईसा मसीह इसाई और ईसाइयत की काफी ऐतिहासिक संबंध रही है कहा जाता है कि जिसकी जीसस के जिंदगी का एक बड़ा हिस्सा सीरिया से ही जुड़ा था लेकिन बाद में यहां के लोग इस्लाम धर्म को अपना लिया और आज यहां के लगभग 90% लोग इस्लाम धर्म का पालन करते हैं लेकिन यहां के मुसलमान शिया और सुन्नी दो फिरको में बटा हुआ है और इन दो फिरको मैं लड़ाई हमेशा से लगी रहती थी।

बाद में जाकर सीरिया के काफी सारे हिस्से में तेल की खोज हुई और काफी सारा पैसा इस देश में आने लगा। यहाँ तेल की खोज होना दूसरे मुल्कों की तरह सीरिया की किस्मत बदल सकता था लेकिन यहां की राजनीतिक लड़ाइयों की वजह से यह देश बर्बादी की राह पर चल पड़ा। सीरिया में ज्यादातर सुन्नी मुसलमान है लेकिन यहां की सरकार यानी अस्साद सरकार एक शिया सरकार है जो यह यहां के सुन्नी मुसलमानों को हजम नहीं हुई और वे लोग भी एक सुन्नी सरकार का गठन करना चाहते थे। यही कारण है कि यहां की सरकार ने 1963 से 2011 तक लगभग 48 साल इमरजेंसी कानून के द्वारा देश को चलाती थी लेकिन 2011 में एक सिविल वॉर हुआ और इस पूरे देश के लोग कई भागों में बट गए और कुछ सालों बाद सीरिया में तीनतरफा युद्ध का आरंभ हुआ एक तरफ है अस्साद जिसको रसिया और ईरान सपोर्ट करता है दूसरी तरफ है सुन्नी संगठन जिसको अमेरिका और सऊदी अरब सपोर्ट करता है और तीसरी तरफ है ISIS जो इन दोनों का दुश्मन है इसके अलावा भी यहाँ का यजीदी और कुर्दी संप्रदाय अपनी एक अलग देश कुर्दिस्तान बनाने के लिए लड़ रहे हैं।

जिनमें ज्यादातर फौजी महिलाएं शामिल है। धीरे-धीरे यहां की लड़ाई एक अंतर्राष्ट्रीय लड़ाई में तब्दील हुआ। जिस वजह से यहां पर डायरेक्ट इनडायरेक्ट रूप से दुनिया के लगभग 34 देश लड़ रहे हैं। कहा जाता है कि द्वितीय विश्व युद्ध के बाद यह दुनिया के सबसे खतरनाक और युद्ध है जिनमें लाखों लोग मारे गए और लाखों लोग बेघर हुए। अरब लीग जोकी एक अरब देशो का संगठन है जिसने सीरिया को अपने संगठन से बाहर निकाल दिया जिसके चलते सीरिया को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। तो कैसा लगा आज का यह पोस्ट आप हमें कमेंट में बता सकते हैं और अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर कर सकते हैं।

Loading...