पंचायत चुनाव: नेताजी को भैंस पहुंचाएगी जीत के दरवाजे तक!

0

पटना: बिहार पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में नामांकन कार्य जोर शोर से पूरे राज्य में चल रहा है। इस बीच नामांकन दाखिल करने आ रहे उम्मीदवार जनता और मीडिया का अटेंशन हासिल करने के लिए तरह-तरह के जुगाड़ आजमा रहे हैं। कटिहार में एक मुखिया प्रत्याशी जब नामांकन करने प्रखंड कार्यालय पहुंचे तो ठहाके गूंजने लगे। दरअसल नेताजी भैंस पर सवार होकर नामांकन करने पहुंचे थे। यह नेता जी हैं आजाद आलम उर्फ गुड्डू जो जिले के हसनगंज प्रखंड अंतर्गत रामपुर पंचायत से मुखिया पद के उम्मीदवार हैं। गुड्डू को भैंस पर सवार होकर आता देख सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें सीमा रेखा के बाहर ही रोक दिया। लेकिन तब तक नेताजी अपना काम कर चुके थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

पशुपालक हैं इसलिए आए भैंस पर चढ़कर

मीडिया कर्मियों ने लगे हाथ सवाल पूछ लिया, भैंस पर चढ़कर क्या दिखाना चाहते हैं? नेताजी ने पहले से तैयार जवाब ठोक दिया,-“किसान हूं, पशुपालक हूं, गरीब हूं, सवारी का उपाय नहीं है, इसलिए भैंस की सवारी करके आया हूं।”
प्रत्याशी आलम आजाद दावा करते हैं कि किसान मजदूर और गरीबों का वोट मिलेगा और जीत कर गरीबों की सेवा करेंगे। अब जीत हार तो परिणाम आने के बाद तय होगा, लेकिन फिलहाल आजाद आलम का नाम चर्चा में है।

क्या कहते हैं अधिकारी

इस मामले में हसनपुर प्रखंड के बीडियो रितेश कुमार कहते हैं कि नामांकन के लिए आने का तरीका प्रत्याशियों का निजी मामला है। प्रशासन यह सुनिश्चित करता है कि उनके आचार व्यवहार से आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन नहीं हो। नामांकन देने आए सभी प्रत्याशियों को सुरक्षा और सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि सुरक्षाकर्मियों ने सीमा के बाहर ही भैंस को रोक दिया था।