पेपर लीक मामले में आईएएस के खिलाफ नहीं हुई कार्रवाई तो पप्पू यादव करेंगे ये काम, खुली चेतावनी दी

0

पटनाः बीपीएससी पेपर लीक मामले में अब तक कुल नौ लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. इस मामले में बीते शुक्रवार को ईओयू ने एक सॉल्वर को गिरफ्तार किया है. हालांकि इस मामले में जन अधिकार पार्टी के सुप्रीमो और पूर्व सांसद पप्पू यादव  लगातार आईएएस रंजीत कुमार सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. शनिवार को उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर इस मामले में आईएएस अधिकारी पर कार्रवाई नहीं हुई तो वो आंदोलन करेंगे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

हाई कोर्ट जाएंगे पप्पू यादव

पप्पू यादव ने कहा कि रविवार से जन अधिकार पार्टी की छात्र परिषद और युवा परिषद की टीम पटना की सड़कों पर उतरेगी. बीपीएससी कार्यालय का घेराव करेगी. इस आंदोलन के बाद भी अगर आईएएस रंजीत पर कार्रवाई नहीं होती है तो वह खुद हाई कोर्ट जाएंगे और इस मामले में दूध का दूध और पानी का पानी कराएंगे. पप्पू यादव ने कहा कई ऐसे प्रमाण मिले हैं जिसमें आईएएस रंजीत की भूमिका साफ दिख रही है.

रंजीत कुमार सिंह को क्यों बचाया जा रहा?

पप्पू यादव ने कहा कि सीतामढ़ी में आईएएस रंजीत कुमार सिंह के डीएम रहते हुए घोटाले को उजागर करने वाले एडवोकेट समाजसेवी विमल शुक्ला ने आवाज उठाई थी और प्रमाण भी दे रहे हैं कि बीपीएससी पेपर लीक मामले के तार सीतामढ़ी से जुड़े हुए हैं तो उनकी बात क्यों नहीं सुनी जा रही? उस पर जांच क्यों नहीं की जा रही है?

पप्पू यादव ने कहा कि रंजीत कुमार सिंह की गिरफ्तारी न भी हो लेकिन जांच तो होनी चाहिए थी. इनका करीबी दोस्त गिरफ्तार किया जाता है जिससे रंजीत कुमार की पेपर लीक के दिन 20 बार से ज्यादा मोबाइल पर बात होती है. अब तक उन्हें क्यों बचाया जा रहा है? जांच टीम को हर हाल में रंजीत कुमार से पूछताछ करनी पड़ेगी नहीं तो जन अधिकार पार्टी चुप नहीं बैठेगी.