कोविड-19 वैक्सीन के लिए को-विन पोर्टल पर खुद करना होगा रजिस्ट्रेशन

0
  • रजिस्ट्रेशन के बाद मोबाइल पर एसएमएस के माध्यम से मिलेगी सूचना
  • कोल्ड चेन रूम में 24 घंटे रहेगी बिजली
  • एक सत्र में सौ लोगों को लगेगी वैक्सीन
  • प्रथम चरण में स्वास्थ्य कर्मियों को लगेगा टीका

छपरा: अगर आप कोविड-19 वैक्सीन लगवाना चाहते हैं तो आपको को-विन एप यानी कोरोना पर जीत एप पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा। पहले फेज में स्वास्थ्य कर्मी और पुलिस कर्मी के साथ-साथ बुजुर्गों को कोरोना टीका लगाने के बाद दूसरे चरण का टीका लगवाने के लिए स्वास्थ्य विभाग के पोर्टल पर सेल्फ रजिस्ट्रेशन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिले के लोग इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराएंगे, इसके बाद ही उन्हें कोरोना का टीका लगेगा। इस निर्णय के तहत 50 साल से कम उम्र के उन लोगों को प्राथमिकता के आधार पर कोरोना का टीका दिया जाएगा जो अन्य किसी बीमारी से पीडि़त हैं ।ये वे लोग है जो डायबिटीज सहित अन्य बीमारी से ग्रसित हैं और कोरोना संक्रमण की संभावना उन्हें अधिक है। रजिस्ट्रेशन के बाद कोरोना टीका की प्रतीक्षा सूची में उनका नाम शामिल हो जाएगा। इसके लिए विभाग तैयारी में जुट गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

कोल्ड चेन अस्पतालों में 24 घंटे रहेगी बिजली

स्वास्थ्य विभाग के कार्यपालक निदेशक और प्रधान सचिव ने वीडियो कफ्रेंसिंग से कोरोना वैक्सीन को सुरक्षित रखने के लिए कोल्ड चेन तैयार करने को कहा है। सीएस को हर हाल में यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि वैक्सीन रखने वाले अस्पतालों में विद्युत कनेक्शन होना चाहिए जिसका फीडर अलग हो। सदर अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जहां वैक्सीन को रखा जाएगा वहां 24 घंटे बिजली की व्यवस्था का निर्देश दिया गया है। वैक्सीन स्टॉक करने वाली जगहों पर जरूरी सुविधाएं महैया कराई जा रही है।

तीन कमरों वाले स्कूलों के चयन का निर्देश

कार्यपालक निदेशक ने सीएस के साथ वर्चुअल बैठक की थी। कोविड टीकाकरण के लिए तीन कमरों वाले स्कूलों को चिह्नित करने का निर्देश दिया है। इसके लिए उन स्कूलों का चयन किया जाएगा। जहां मतदान केंद्र बनाए जाते हैं । स्कूलों में टीकाकरण के लिए सत्र निर्धारित किया जाएगा। एक सत्र में सौ लोगों को कोविड का टीका लगेगा। बताया गया है कि कोरोना का टीका दिए जाने के बाद लोगों को एक सुरक्षित कमरे में आधा घंटा तक रोका जाएगा। विशेषज्ञ उनकी मॉनिटरिंग करेंगे कि वैक्सीन के कारण कोई दूसरा लक्षण तो नहीं आया। पूरी तरह से आश्वस्त होने पर ही टीका लगाने वाले व्यक्ति को जाने की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए स्कूलों का चयन कर रिपोर्ट देने को कहा गया है।

‘को- विन के जरिए ये सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी

  • लाभार्थियों का पंजीकरण और सत्यापन
  • टीकाकरण निर्धारण
  • टीकाकरण की खुराक के लिए एसएमएस के जरिए पहुंच
  • टीकाकरण के बाद प्रतिकूल घटना की रिपोर्टिंग
  • टीकाकरण के बाद प्रमाण पत्र

पात्र लाभार्थी के पंजीकरण के लिए ये दस्तावेज आवश्यक

  • ड्राइविंग लाइसेंस
  • श्रम मंत्रालय की योजना के तहत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड
  • महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम जॉब कार्ड
  • सांसदों / विधायकों / एमएलसी को जारी किए गए आधिकारिक पहचान पत्र
  • पैन कार्ड
  • बैंक / डाकघर द्वारा जारी पासबुक
  • पासपोर्ट
  • पेंशन दस्तावेज़
  • केंद्रीय / राज्य सरकार / सार्वजनिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा कर्मचारियों को जारी किए गए सेवा पहचान पत्र
  • मतदाता पहचान पत्र