रूपेश मर्डर केसः अंकल, अपराधी को पकड़ कर लाइए, पहली गोली मेरी ‘मम्मा’ मारेगी, बेटी की बात सुन सुशील मोदी की आंखें भर आई

0

छपरा: बिहार में सुशासन लहुलूहान है।अपराधियों के आतंक से आम लोग भयाक्रांत हैं. सुदूर इलाकों की बात छोड़िए सरकार के नाक के नीचे राजधानी पटना में बेखौफ अपराधियों का दुःसाहस फिर आराम से भाग निकलने और पुलिस के हाथ अब तक खाली रहने पर लोग पुलिस की कार्यप्रणाली पर थू-थू कर रहे हैं. इंडिगो के मैनेजर रूपेश की हत्या के करीब 48 घंटे बीत चुके हैं लेकिन पुलिस अंधेर में ही दनादन तीर चला रही है।इधर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राज्यसभा सांसद सुशील मोदी रूपेश के गांव पहुंचे और परिजनों से मुलाकात की। रूपेश की छोटी बेटी ने ऐसी बातें कही कि मोदी की आंखें भर गई और फिर गले से लगा लिया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

रूपेश सिंह की बेटी से ऐसी बातें कही कि सबके आंख में आंसू आ गए

दरअसल, सुशील मोदी आज दोपहर रूपेश सिंह के गांव समरी जलालपुर (सारण ) गए। वे वहां जाकर परिजनों से मुलाकात किया। सुशील मोदी ने रूपेश सिंह के परिजनों के साथ ही छोटे-बेटे और बेटी से मुलाकात की। इस दौरान बेटी ने जो बातें कहीं उससे वहां पर मौजूद सभी की आंखें नम हो गई और सब के सब स्तब्ध रह गए। रूपेश सिंह की 8 साल की बेटी ने जब कहा – अंकल जब अपराधी पकड़े जायें तो सबसे पहले उसे मेरी मां के सामने लाइए…..मेरी मां पहली गोली मारेगी…..यह गुस्सा उस छोटी बच्ची का है जिसके सिर से पिता का साया सदा के लिए छिन गया। उस अबोध बच्ची के शब्द को सुन कर सुशील मोदी स्तब्ध रह गए और आंख भर आई। इसके बाद उन्होंने बेटी को सीने से लगा लिया।

सीएम के आक्रामक रूख के बाद फौज लगी फिर भी नतीजा सिफर

पटना पुलिस इस हाईप्रोफाइल हत्या कांड को सुलझाने को लेकर कई टीमों को लगाया है। कई आईपीएस-डीएसपी और एसटीएफ की टीम पसीना बहा रही है लेकिन नतीजा कुछ नहीं निकला है। पुलिस ने अब तक कई सीसीटीवी फुटेज को देखा,कई जगहों पर छापेमारी ,दर्जनों लोगों से पूछताछ की फिर भी किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है। सीएम नीतीश के सुशासन की चहुंओर हो रही खिचाई के बाद खुद नीतीश कुमार सामने आये और कहा कि अपराधी गिरफ्थार होंगे और स्पीडी ट्रायल के तहत सजा मिलेगी।

अब बर्दाश्त नहीं-सीएम

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को घटना पर संज्ञान लेते हुए खुद डीजीपी से बात की थी और इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश कुमार सिंह की हत्या से संबंधित अद्यतन जानकारी ली. डीजीपी ने मुख्यमंत्री को बताया था कि इस हत्याकांड के उद्भेदन के लिए एसआईटी गठित कर त्वरित कार्रवाई की जा रही है. मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि इस हत्याकांड के अपराधियों की अविलंब गिरफ्तारी करें और स्पीडी ट्रायल कराकर दोषियों को जल्द से जल्द कठोर सजा दिलाएं. मुख्यमंत्री ने डीजीपी को निर्देश दिया कि अपराध की घटनाओं को बर्दाश्त नहीं करेंगे. पुलिस अपराधियों के खिलाफ पूरी सख्ती से पेश आए. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हत्याकांड को लेकर वे काफी गंभीर हैं और स्वयं लगातार मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

पटना पुलिस को मिला सीसीटीवी फुटेज

पटना पुलिस को मंगलवार की शाम सात बजकर एक मिनट का वीडियो मिला है। वीडियो रूपेश के घर से चंद दूरी पर का है। सीसीटीवी के वीडियो में रूपेश की गाड़ी घर की तरफ जाती हुई दिख रही है। जाम की वजह से रूपेश की गाड़ी घीरे होती है तभी एक बाईक बहुत तेजी से ओवरटेक कर आगे निकलती है। सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि बाइक सवार स्टंट लेते हुए बहुत तेजी से उनकी गाड़ी को क्रास कर आगे निकलता है। पुलिस अब इस पड़ताल में जुटी है कि कहीं बाईक सवार ने ही लाइनर का काम तो नहीं किया ?

मंगलवार शाम की है घटना

इंडिगो के मैनेजर रूपेश सिंह मंगलवार की देर शाम पटना एयरपोर्ट से अपनी कार से घर लौट रहे थे कि शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के पुनाईचक में उनके अपार्टमेंट के सामने ही ताबड़तोड़ फायरिंग कर उन्‍हें मौत की नींद सुला दिया गया। पुलिस ने वारदात तके सुपारी किलर के शामिल होने की आशंका जताई है। सीसीटीवी फुटेज से स्‍पष्‍ट हुआ है कि अपराधी 20 सेकेंड में ही वारदात को अंजाम देकर निकल गए।उस वक्‍त अपार्टमेंट का गार्ड वहां मौजूद नहीं था। गोली की आवाज सुनकर लोग दौड़े। उन्‍हें आनन-फानन में पारस अस्‍पताल ले जाया गया, जहां डॉक्‍टरों ने मृत घोषित कर दिया।