सीवान के सिसवन में बालक के अपहरण का असफल प्रयास, भाग कर बचाई जान, पुलिस की कार्यशैली के विरुद्ध ग्रामीणों ने किया सड़क जाम

0
apharan

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सिसवन थाना क्षेत्र के गंगपुर सिसवन पंचायत के माधोपुर में बुधवार की शाम बाइक सवार बदमाश द्वारा एक बालक का अपहरण करने का प्रयास किया गया,लेकिन बालक ने सूझबूझ का परिचय देते अपनी जान बचाने में कामयाब रहा है। इसके बाद पुलिस प्रशासन से नाराज ग्रामीणों ने गुरुवार को सिसवन-मांझी मुख्य पथ पर जामकर अगजनी की तथा पुलिस प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी की। सिसवन-मांझी मुख्य पथ पर कठिया बाबा के पास सड़क जाम होने से राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना। इस दौरान सड़क के दोनों तरफ काफी संख्या में वाहनों की कतार लग गई थी। सड़क जाम दोपहर 12 बजे से दो बजे तक रहा। जाम की सूचना मिलते ही सिसवन थाना के एसआइ अजीत कुमार दलबल के साथ जाम स्थल पर पहुंचे और लोगों को समझा-बुझाकर तथा कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम हटाया तथा बालक को थाना लाकर घटना की जानकारी ली।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
20230302_203826 (1) (1)-compressed

उन्होंने बताया कि बालक से घटना की जानकारी तथा बदमाशों के गतिविधि की जानकारी ली जा रही है। शीघ्र ही बदमाशों की पहचान कर गिरफ्तार कर लिया जाएगा।बताया जाता है कि बुधवार की शाम माधोपुर निवासी रंजीत महतो का 10 वर्षीय पुत्र पृथ्वी कुमार गांव के उत्तर बगीचे के पास छठ घाट स्थान समीप अपने मित्रों के साथ खेल रहा था। तभी एक अज्ञात व्यक्ति आया और उसे यूरिया लाने के बहाने अपनी बाइक पर बैठा लिया तथा इस एवज में उसे 50 रुपये देने का आश्वासन देकर अपनी बाइक से लेकर चला गया। इस दौरान वह व्यक्ति पृथ्वी को बाइक पर बैठा सिसवन बाजार की ओर चल दिया। बाजार में एक जगह उसने शराब खरीदी तथा इसके बाद भागर गांव की ओर बाइक लेकर जाने लगा। तब पृथ्वी ने यूरिया सिसवन में मिलने की जानकारी दी, इसके बाद उक्त व्यक्ति द्वारा पृथ्वी की पिटाई शुरू कर दी गई। इससे पृथ्वी डर गया।

जब वह व्यक्ति भागर गांव में बाइक लेकर जाने लगा तभी पृथ्वी बाइक से कूद गया और शोर मचाने लगा। पृथ्वी के शोर मचाने पर आसपास के लाेग एकत्रित हो गए इसी बीच पकड़े जाने के डर से बाइक सवार व्यक्ति अपनी बाइक लेकर भाग निकला। स्थानीय लोगों ने पृथ्वी को मुखिया के घर समीप पहुंचा दिया। इसके बाद मुखिया एवं जिला पार्षद प्रतिनिधि अवधेश चौहान ने गंगपुर सिसवन पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि धर्मनाथ प्रसाद को फोन कर घटना की जानकारी दी। सूचना मिलते ही मुखिया व स्वजन भागर गांव पहुंचे और उस बालक को अपने साथ घर लाए तथा घटना की सूचना सिसवन थाने को दी।

सूचना मिलने के 18 घंटे बाद भी जब पुलिस पीड़ित के घर नहीं पहुंची तो ग्रामीण आक्रोशित हो गए तथा पुलिस प्रशासन पर शिथिलता व लापरवाही का आरोप लगाते हुए गुरुवार को सिसवन-मांझी मुख्य पथ स्थित कठिया बाबा के पास सड़क जाम कर दिए। इस दौरान ग्रामीण सड़क पर अगजनी करते हुए पुलिस प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी की। ग्रामीणों का कहना था कि सूचना देने के बावजूद भी पुलिस उदासीन है कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।