छपरा: बूथ स्तर पर कोविड टीकाकरण महाअभियान की हुई शुरुआत

0
  • टीकाककरण के लिए चौपाल लगाकर किया जा रहा है जागरूक
  • टीकाकरण के लिए बूथ स्तर पर बनाया गया माइक्रोप्लान
  • अभियान की मॉनिटरिंग के लिए वरीय पदाधिकारियों की हुई प्रतिनियुक्ति
  • लक्ष्य को शत-प्रतिशत हासिल करने के लिए तत्पर है जिला प्रशासन

छपरा: जिले में कोविड टीकाकरण के शत-प्रतिशत लक्ष्य को हासिल करने के लिए बूथ स्तर पर टीकाकरण महाअभियान की शुरूआत बुधवार को की गयी। जिले के सभी प्रखंडों में माइक्रोप्लान के अनुसार बूथ स्तर पर टीकाकरण सत्र आयोजित कर लाभार्थियों का टीकाकरण किया गया। इसके साथ टीकाकरण केंद्र पर आने वाले लाभार्थियों को टीका के महत्व के बारे में जानकारी दी गयी। जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे के सतत निगरानी में अभियान की शुरूआत की गयी। जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कहा कि जिन क्षेत्रों में टीकाकरण होना है वहां के लोगों को टीकाकरण संबंधित पूर्व सूचना आशा कार्यकर्ता, आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा फैसिलिटेटर , एएनएम, जीविका दीदी एवं पंचायत स्तरीय कर्मचारियों के माध्यम से संबंधित क्षेत्र में घर घर जाकर दी जा रही है। टीकाकरण सत्र स्थल पर आवश्यक व्यवस्थाएं यथा टेबल कुर्सी बिजली इत्यादि की व्यवस्था 1 दिन पूर्व सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है। टीकाकरण कार्यक्रम सुबह 8:00 बजे से संध्या 4:00 बजे तक चलेगा। टीका कर्मी समय से आधे घंटे पूर्व 7:30 बजे तक अपने सत्र स्थल पर पहुंच जाएं एवं समय समाप्ति के पूर्व स्थान नहीं छोड़े। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि संध्या चौपाल का आयोजन एक-दो दिन पूर्व अवश्य करें ताकि टीकाकरण कार्यक्रम की सूचना पर समय सभी को मिल जाए। कार्यक्रम की तैयारी से संबंधित फीडबैक प्रखंड विकास पदाधिकारी को नियमित रूप से दें एवं यदि कोई समस्या आ रही हो तो उनको अवगत कराये।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

WhatsApp Image 2021 06 09 at 8.56.36 PM

अभियान की निगरानी के लिए वरीय पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति

WhatsApp Image 2021 06 09 at 8.56.35 PM

जिलाधिकारी डॉ. नीलेश रामचंद्र देवरे ने कोविड टीकाकरण महा-अभियान की मॉनिटरिंग के लिए प्रखंड स्तर वरीय पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की है। प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को प्रखंड वांटित कर बूथ स्तर पर होने वाले टीकाकरण कार्य की मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया गया है। प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने स्तर से पंचायत स्तरीय कर्मी यथ पंचायत सचिव, विकास मित्र, किसान सलाहकार को पंचायत स्तरीय पर्यवेक्षक के रूप में प्रतिनियुक्त करेंगे।

जागरूकता से हीं जीतेंगे कोरोना से जंग

जिलाधिकारी ने कहा कि जागरूकता से हीं जंग जीती जा सकती है। इस महा-अभियान में हर तबके के लोगों को शामिल करना है। डीएम ने कहा कि जनप्रतिनिधि, धर्म गुरू, स्कूल के शिक्षक, विकास मित्र, टोला सेवकों के माध्यम से जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। डीएम ने कहा कि घर-घर सर्वे कराया गया है। ऐसे व्यक्तियों की डाटा एकत्रित की गयी है जो अभी तक टीका नहीं लिये है। उनको फोन करके टीका लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। यह जानकारी दी जा रही है कि इस दिन को आपके मुहल्ले में टीका एक्प्रेस जायेगी आ वहां आकर अपना टीकाकरण करा लें।

टीका लगवाने के बाद हो सकता है हल्का बुखार

डीएम ने कहा कि टीका लेने के बाद बुखार आ सकता है। इससे घबराने की जरूरत नहीं है। बुखार आना टीका के सकरात्मक प्रभाव का पहचान है। टीका लगवाने के बाद ऐसा नहीं है कि कोरोना नहीं होगा। कोरोना हो सकता है। लेकिन यह गंभीर नहीं होगा । इससे आपकी मृत्यु नहीं होगी। जिलाधिकारी ने कहा कि तीसरे लहर से बचना है तो सबसे पहले अपने घर से टीकाकरण की शुरूआत करें। अपने परिवार के सभी सदस्यों का टीकाकरण करांए। फिर गांव-मुहल्ला व समाज के सभी व्यक्तियों का टीकाकरण कराएं तभी हम सब खुद को सुरक्षित रख सकेंगे।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here