सामूहिक सहभागिता से खत्म होगा कालाजार: डीएमओ

0
kalazar
  • कालाजार के खिलाफ जंग में मुखिया व जनप्रतिनिधि कर रहे हैं सहयोग
  • गांव में जागरूकता के लिए ऑडियो के माध्यम से करा रहे प्रचार प्रसार

छपरा: जिले के 20 प्रखंडों में कालाजार से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सिंथेटिक पैराथायराइड स्प्रे का छिड़काव किया जा रहा है। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से व्यापक स्तर पर जन जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। जिसमें पंचायत के मुखिया व जनप्रतिनिधि भी काफी सहयोग कर रहे हैं। मुखिया व जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्रों में ऑडियो के माध्यम से कालाजार से बचाव तथा छिड़काव अभियान में सहयोग करने के लिए लोगों को जागरूक कर रहे हैं। जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ दिलीप कुमार सिंह ने मुखिया व जनप्रतिनिधियों के सहयोग की सराहना करते हुए कहा कि किसी भी अभियान में सामूहिक सहभागिता बहुत जरूरी होती है। सामूहिक सहभागिता से ही किसी अभियान को सफल बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि कालाजार अभियान में मुखिया व जनप्रतिनिधि काफी सहयोग कर रहे हैं। इससे बहुत हद तक अभियान को सफल बनाने में मदद मिल रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

kalazar

पीसीआई भी कर रही है सहयोग

कालाजार से बचाव को लेकर चलाए जा रहे जागरूकता अभियान में स्वास्थ्य विभाग के सहयोगी संस्था पीसीआई भी सहयोग कर रही है। पीसीआई के जिला समन्वयक मानव कुमार के द्वारा लगातार क्षेत्रों में घर घर जाकर लोगों को जागरूक किया जा रहा है तथा मुखिया व जनप्रतिनिधियों के साथ सामुदायिक बैठक कर कालाजार से बचाव तथा छिड़काव अभियान में सहयोग करने की अपील की जा रही है। ताकि दवा छिड़काव में किसी तरह का बाधा न हो। छिड़काव से पहले आशा कार्यकर्ता मुखिया या जनप्रतिनिधि लोगों घर-घर जाकर जानकारी देंगे कि इस दिन को आपके घर छिड़काव होगा। इससे लोगों को पहले से जानकारी रहेगी। लोग अपना सामान हटाकर रखेंगे ताकि दवा छिड़काव में किसी तरह की समस्या न हो।

लाडस्पीकर से हो रहा है प्रचार प्रसार

जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉ दिलीप कुमार सिंह ने बताया कि मुखिया व जनप्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्रों में प्रचार वाहन के माध्यम से ऑडियो संदेश से लोगों को जागरूक कर रहे हैं। साथ ही गांव में स्थित मंदिर और मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर का भी प्रयोग किया जा रहा है। जिसके माध्यम से लोगों को जानकारी दी जा रही है। इससे कम समय में अधिक लोगों तक सूचना का प्रसार किया जा रहा है। साथ हीं मुखिया के द्वारा भी लोगों को घर जाकर इसकी जानकारी दी जा रही है।

दी जा रही है यह जानकारी

जागरूकता अभियान के दौरान जानकारी दी जा रही है कि घर की दीवारों में पड़ी दरारों को भर दें व अच्छी तरह से घर की सफाई करें। खाने-पीने का सामान, बर्तन, दीवारों पर टंगे कैलेंडर आदि को बाहर निकाल दें। भारी सामानों को कमरे के मध्य भाग में एकत्रित करें और उसे ढक दें।