जर्जर एस एच-90 से आने जाने वाले गाड़ी चालक और टूटे सड़क से यात्री तो धूल से ग्रामीण परेशान

0

छपरा: मशरख महम्मदपुर एसएच-90 पर चैनपुर रेलवे ओवरब्रिज के पास जर्जर अवस्था में सड़क से आम से खास तक आने जाने वाले सभी परेशान हैं। सरकार ने यह एस एच-90 लोगों की सुविधा के लिए बनाया गया लेकिन बाढ़ के बाद क्षतिग्रस्त गढ़ा नुमा सड़क से आने जाने वाले सभी परेशान हैं वही शाम होते ही जर्जर सड़क पर गाड़ियों के फंसने से लम्बी कतार लग जा रही है। वही जर्जर सड़क से वाहनों के आने जाने से धूल मिट्टी उड़ने से अगल बगल के टोले के लोगो के लिए परेशानी की सबब बनी हुयी है। जिसमे आये दिन गाड़ी सड़क में बनी गढ़े में फस जाती है वही लग्न का मौसम होने के कारण चैनपुर रेलवे ओवरब्रिज के पास लगभग-लगभग 200 मीटर की दूरी में बने गड्ढा में गाड़ी के फंस जाती हैं जिससे जाम की स्थिति पैदा हो जाती है और सड़क पर गरियो की लंबी कतारें खड़ी हो जाती है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

गाड़ी चलते ही धूल का घना गुबार उड़ता हैं, जो राहगीरों समेत आस पास के गांव के लिए जी का जंजाल बन गया है। गांव में दिनभर धूल और मिट्टी से आने जाने वाले बच्चे, कर्मचारी, अधिकारी, आम जनता, सड़क किनारे स्थित दुकान व घर के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है इस कारण लोग खांसी, दमा के मरीज बन गए हैं। स्थानीय लोगों ने सड़क की अविलंब मरमति की मांग करते हुए आंदोलन की चेतावनी दी है। चैनपुर पोखरा गांव की महिलाएं बताती है कि टूटे सड़क से दिन रात हजारों की संख्या में छोटे बड़े वाहनों का आना जाना लगा रहता है यह सड़क कभी शांत नही होता है। गाड़ियों के चलने से हवा में धूल का स्तर बढ़ने से सभी परेशान हैं। धूल के कारण दो पहिया वाहन चालकों का सड़क पर चलना मुश्किल हो गया है। सेहत के नजरिए से भी लोगों की मुश्किल बढ़ रही है। सांस के जरिए शरीर में जा रही धूल से स्वास्थ्य संबंधी मामले भी बढ़ रहे हैं। घर में सभी लोग धूल से बीमार हो जा रहें हैं।